newsroompost
  • youtube
  • facebook
  • twitter

Speaker And Deputy Speaker Controversy : बीजेपी से लोकसभा उपाध्यक्ष पद मांग रहे विपक्ष ने कांग्रेस और इंडी गठबंधन शासित राज्यों में बनाए हैं अपने स्पीकर और डिप्टी स्पीकर

Speaker And Deputy Speaker Controversy : बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने भी विपक्ष के इंडी गठबंधन पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि आज तक कभी भी लोकसभा के स्पीकर का चुनाव सशर्त हुआ है? विपक्ष कह रहा है कि डिप्टी स्पीकर तय करो तब हम स्पीकर को समर्थन देंगे। ये बात वो लोग कह रहे हैं जिन्होंने अपने शासन वाले राज्यों में स्पीकर और डिप्टी स्पीकर खुद की पार्टियों के नेताओं को बनाया है। ये ऐसे लोग हैं, जो दोहरे मापदंड में जीते हैं।

नई दिल्ली। लोकसभा में स्पीकर पद को लेकर घमासान मचा हुआ है। एनडीए की ओर से ओम बिरला के नामांकन के खिलाफ विपक्ष में शामिल कांग्रेस के इंडी गठबंधन ने के. सुरेश को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। वहीं अब चर्चा है कि विपक्ष डिप्टी स्पीकर पद के लिए भी अपना उम्मीदवार घोषित करेगा। एक तरफ तो विपक्ष परम्परा की बात करते हुए डिप्टी सीएम पद अपने पास रखने की मांग कर रहा है। वहीं बता अगर कांग्रेस और इंडी गठबंधन शासित प्रदेशों की करें तो वहां सरकार ने विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष अपनी ही पार्टी के बना रखे हैं।

इस बात को लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने भी विपक्ष के इंडी गठबंधन पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि आज तक कभी भी लोकसभा के स्पीकर का चुनाव सशर्त हुआ है? विपक्ष कह रहा है कि डिप्टी स्पीकर तय करो तब हम स्पीकर को समर्थन देंगे। ये बात वो लोग कह रहे हैं जिन्होंने अपने शासन वाले राज्यों में स्पीकर और डिप्टी स्पीकर खुद की पार्टियों के नेताओं को बनाया है। ये ऐसे लोग हैं, जो दोहरे मापदंड में जीते हैं। आइए, हम आपको उन राज्यों के बारे में बताते हैं जहां कांग्रेस और इंडी गठबंधन की सरकार है, वहां अध्यक्ष और उपाध्यक्ष कौन हैं और किस पार्टी से हैं।

सबसे पहले बात करते हैं कर्नाटक की जहां कांग्रेस सरकार है। यहां कांग्रेस ने अपनी ही पार्टी के नेता यू.टी. खादेर फरीद को विधानसभा अध्यक्ष और आर.एम. लमानी को उपाध्यक्ष बनाया है। तेलंगाना में भी कांग्रेस की ही सरकार है और यहां कांग्रेस विधायक गद्दाम प्रसाद कुमार विधानसभा अध्यक्ष हैं जबकि उपाध्यक्ष का पद खाली है। हिमाचल प्रदेश में भी कांग्रेस ने कुलदीप सिंह पठानिया को अध्यक्ष और अपनी ही पार्टी के नेता विनय कुमार को उपाध्यक्ष पद पर आसीन किया हुआ है। वहीं तमिलनाडु में डीएमके की सरकार है जो इंडी गठबंधन में शामिल है। यहां भी वही हाल है, एम. अप्पवू विधानसभा अध्यक्ष और डीएमके के ही के. पिचांदी डिप्टी स्पीकर हैं। झारखंड में जेएमएम और कांग्रेस की सरकार है। यहां जेएमएम के रबीन्द्र नाथ महतो विधानसभा अध्यक्ष हैं जबकि उपाध्यक्ष का पद खाली है।