newsroompost
  • youtube
  • facebook
  • twitter

Raebareli: गांधी परिवार से जुड़े एक और ट्रस्ट में ‘घोटाले’ पर गंभीर सवाल, Cong MLA अदिति सिंह ने की जांच की मांग

MLA Aditi Singh: अदिति इसके पहले भी कांग्रेस(Congress) के खिलाफ मोर्चा खोल चुकी है। वहीं वो कई बार यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ(CM Yogi) की तारीफ करते हुए उन्हें अपना गुरु बता चुकी हैं। 

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में सदर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह ने कांग्रेस के खिलाफ जांच के लिए आर्थिक अपराध शाखा(EOW) को पत्र लिखा है। इस पत्र में अदिति सिंह ने जमीन हड़पने को लेकर गांधी परिवार पर आरोप लगाया है। अपराध शाखा को लिखे अपने पत्र को अदिति ने ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा कि ‘बच्चियों की पढ़ाई को बढ़ावा देने के नाम पर ज़मीन ली गयी, दशकों बाद भी उसका कोई इस्तेमाल नहीं किया। और अब उस जमीन को करोड़ो में बेचने की फिराक में हैं। कमला नेहरू एजुकेशनल सोसाइटी के उस फर्ज़ीवाड़े और भारी पैसे की गड़बड़ी की जांच के लिए मैने आज आर्थिक अपराध शाखा को पत्र लिखा है।’ इस पत्र को लेकर भाजपा नेताओं ने भी कमान संभाल ली है और कांग्रेस पर ताबड़तोड़ प्रहार कर रही है।

Aditi Singh and CM Yogi Adityanath

आपको बता दें कि भाजपा नेता शलभमणि त्रिपाठी ने इस पत्र को लेकर गांधी परिवार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया है कि, “गांधी परिवार किसी के नाम पर भी ज़मीनें लूट सकता है, पहले राजीव जी के नाम पर सम्राट साइकिल के बहाने ग़रीबों की ज़मीन लूटी,अब फ़िराक़ में थे कमला नेहरू जी के नाम पर 112 दलितों-मुस्लिमों की ज़मीन लूटने की,पर अब दाल नहीं गलेगी, योगी जी की सरकार ग़रीबों के हक में जमीनखोरों से लड़ेगी।”

Aditi Singh letter

वहीं भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने इस पत्र को लेकर गांधी परिवार पर तंज कसते हुए इस पत्र को रिट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि, “ज़मीन हड़पने की बीमारी सिर्फ़ दामाद को ही नहीं, पूरे नेहरू-गांधी परिवार को है…”

वहीं बात करें अदिति सिंह की तो अदिति इसके पहले भी कांग्रेस के खिलाफ मोर्चा खोल चुकी है। वहीं वो कई बार यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए उन्हें अपना गुरु बता चुकी हैं।

पत्र में क्या लिखा है अदिति ने…

अदिति सिंह ने अपने पत्र में लिखा, ‘1968 के दौरान रायबरेली में लड़कियों के लिए स्कूल बनाने के लिए एक ट्रस्ट बनाया गया था। जिसका नाम कमला नेहरू एजुकेशनल ट्रस्ट है। लेकिन उस जमीन पर कभी स्कूल बना ही नहीं। धीरे-धीरे लोगों ने उस पर घर, दुकान बना लीं और बाद में कांग्रेस ने उस जमीन को फ्री होल्ड में परिवर्तित करा ली। सिंह ये जानकारी देते हुए EOW से जांच कराने की मांग की है।

aditi singh

अदिति सिंह ने आरोप लगाया कि सोसाइटी ने कभी कुछ काम ही नहीं किया। और अब उस जमीन को बेचकर प्रॉफिट कमाना चाहते हैं। सिंह ने बिना नाम लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पूछा कि जो लोग पीएम केयर फंड पर सवाल उठा रहे हैं, वो खुद बताए कि आपकी कोंस्टीटूएंसी में, आपकी नाक के नीचे इतना बड़ा घपला करने की कोशिश कर रहे हैं और आपने कभी इस ओर ध्यान देना भी जरूरी नहीं समझा।