बुलंदशहर में हुई साधुओं की हत्या का क्या है अलीगढ़ कनेक्शन

बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या होने के बाद प्रदेश में लोगों के बीच गुस्सा देखने को मिल रहा है। इस मामले दोषियों को पकड़ा जा चुका है। इस बीच घटना से अलीगढ़ में भी गहरी नाराजगी है।

Avatar Written by: April 29, 2020 2:08 pm

लखनऊ। महाराष्ट्र के बाद उत्तर प्रदेश में साधुओं पर हमले की घटना सामने आई है, बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या होने के बाद प्रदेश में लोगों के बीच गुस्सा देखने को मिल रहा है। इस मामले दोषियों को पकड़ा जा चुका है। इस बीच घटना से अलीगढ़ में भी गहरी नाराजगी है। मारे गए दोनों साधु यहीं के रहने वाले थे। गौरतलब है कि मृतक साधु जगदीश लोधा अलीगढ़ के भानोली गांव के रहने वाले हैं। चार भाइयों में तीसरे नंबर के जगदीश अविवाहित थे।

up bULANDSHAHAR

उनके एक भाई अलीगढ़ में फल बेचने का काम करते हैं, जबकि दूसरे दिल्ली में राजमिस्त्री हैं। वहीं सबसे छोटे भाई गांव में ही खेती करते हैं। जगदीश ने बाद में संन्यास ले लिया। 10 साल पहले उन्होंने अलीगढ़ छोड़कर बुलंदशहर का रुख किया।

Bulandshahar Protest New

यहां के अनूपशहर थाना क्षेत्र के पगोना स्थित शिव मंदिर में वह रह रहे थे। वहीं बुलंदशहर की इसी घटना में मारे गए दूसरे साधु शेर सिंह हरदुआगंज इलाके के बरकातपुर गांव के रहने वाले हैं।

तीन भाई और एक बहन में दूसरे नंबर पर शेर सिंह ने तकरीबन सात साल पहले संन्यास लेते हुए साधु का जीवन बिताने का फैसला किया। इसके बाद वह भी पगोना के शिव मंदिर पहुंच गए थे। यहीं पर एक शिव मंदिर में करीब 10 साल से दोनों साधु रह रहे थे। इन साधुओं की सोमवार देर रात कुछ लोगों ने धारदार हथियार से हत्या कर दी थी। जिसके बाद मामला तूल पकड़ गया था।