भारत को बड़ी कामयाबी, LAC पर चीनी सेना ने लिया ये बड़ा फैसला

सूत्रों ने बताया, ‘पीएलए की टुकड़ियां गलवान नाला इलाके से 2 किमी पीछे हट गई हैं। वहीं, अन्य जगहों पर उसने सैनिक बढ़ाने या आक्रामक रुख अख्तियार करने जैसी कुछ बड़ी गतिविधि नहीं की है।’

Avatar Written by: June 4, 2020 8:53 am

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीन के साथ जारी विवाद में भारत की चौतरफा रणनीति कामयाब हो गई है। पूर्वी लद्दाख में चीन की सेनाएं कुछ पीछे हट गई हैं। 5 मई से ही आक्रामक रुख अपना रही चीन की सेना गलवान घाटी में अपनी जगह से 2 किमी पीछे हट गई है। जिसके बाद चीन और भारत के बीच अब तनाव कम होता दिखा दे रहा है।

modi and jinping

रिपोर्ट के मुताबिक चीनी सेना 2 किमी और भारतीय सेना अपनी जगह से 1 किमी पीछे हटी है। यहां के फिंगर फोर इलाके में कई हफ्ते से दोनों देशों की सेना एक दूसरे के सामने डटी हुई हैं। सूत्रों ने बताया, ‘पीएलए की टुकड़ियां गलवान नाला इलाके से 2 किमी पीछे हट गई हैं। वहीं, अन्य जगहों पर उसने सैनिक बढ़ाने या आक्रामक रुख अख्तियार करने जैसी कुछ बड़ी गतिविधि नहीं की है।’

Indian China LAC

6 जून को लेफ्टिनेंट जनरल रैंक के अधिकारियों की बातचीत से पहले चीनी सैनिकों के रुख में यह बदलाव एक सकारात्मक संदेश देता है। वैसे विवाद शुरू होने के बाद से अब तक भारत और चीन के बीच 10-12 दौर की बातचीत हो चुकी है।

पूर्वी लद्दाख में यह विवाद मई की शुरुआत से चला आ रहा है। लद्दाख में  भारत द्वारा अपनी सीमा क्षेत्र में सड़क निर्माण का काम कराया जा रहा था जिसका चीन विरोध कर रहा है। इसके बाद 5 मई को पैंगोंग लेक पर दोनों देश के सैनिकों के बीच झड़प हो गई। इस झड़प में जवान घायल भी हुए थे। इसके बाद चीन ने इलाके में सक्रियता बढ़ा दी और सैनिकों की तैनाती के साथ ही तंबू भी लगा दिए। LAC पर चीन की इस हरकत का भारतीय सेना भी माकूल जवाब दिया और वो भी वहीं डट गए।