Connect with us

दुनिया

भारत को मिला राफेल तो दहशत में आ गया पाकिस्तान, दुनिया के सामने शुरू किया गिड़गिड़ाना…

भारत के खेमे में राफेल लड़ाकू विमान आते ही पाकिस्‍तान की बेचैनी बढ़ गई है। पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत अपनी रक्षा जरूरतों से कहीं ज्‍यादा हथियार जुटाने में लगा हुआ है।

Published

on

Rajnath Singh welcomed Rafale

नई दिल्ली। भारत के खेमे में राफेल लड़ाकू विमान आते ही पाकिस्‍तान की बेचैनी बढ़ गई है। पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत अपनी रक्षा जरूरतों से कहीं ज्‍यादा हथियार जुटाने में लगा हुआ है। इसी बात से पता चलता है कि भारत को राफेल मिलते ही पाकिस्तान दहशत में आ गया है।

Rajnath Singh welcomed Rafale

भारत को हथियार जमा करने से रोकने की अपील

वहीं ये कहना भी गलत नहीं होगा कि भारत के इस कदम से दक्षिण एशिया में हथियारों की होड़ शुरू हो सकती है, जिसकी वजह से माहौल अशांत हो जाएगा। इसके साथ ही पाकिस्‍तान ने वैश्विक स्‍तर पर भी भारत को हथियार जमा करने से रोकने की अपील की है। बता दें कि राफेल विमानों की पहली खेप फ्रांस से भारत बुधवार को पहुंच गई है।

Imran Khan

जरूरत से ज्‍यादा सैन्‍य क्षमता जमा कर रहा भारत

पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्‍ता आयशा फारूकी ने साप्‍ताहिक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान कहा, ‘हमने वो रिपोर्ट देखी, जिसमें बताया गया है कि भारतीय वायु सेना को पांच राफेल विमान की पहली खेप मिल गई है। यह बेहद परेशान करने वाला है कि भारत लगातार अपनी जरूरत से ज्‍यादा सैन्‍य क्षमता जमा कर रहा है। भारत अब दूसरा सबसे बड़ा हथियारों का आयातक देश बन गया है। यह दक्षिण एशिया में रणनीतिक स्थिरता को बुरी तरह से प्रभावित कर रहा है।’

Ayesha Farooqui

उन्‍होंने कहा, ‘भारत द्वारा क्षमता से ज्‍यादा हथियार जुटाना पाकिस्‍तान के लिए भी शुभ संकेत नहीं हैं। यह परेशान करने वाली बात है। अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय को इस पर ध्‍यान देना चाहिए।’ बता दें कि राफेल के खौफ आलम यह है कि इन विमानों के आने से ठीक पहले पाकिस्‍तान के एयरफोर्स चीफ को आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा से आपात बैठक करनी पड़ी है। उधर, चीन भी राफेल के आने के बाद जरूर बौखलाया है। हालांकि, अभी तक चीन की ओर से कोई बयान जारी नहीं किया गया है।

राफेल की पहली खेप बुधवार को अंबाला एयरफोर्स बेस पर उतरी

आपको बता दें कि वायुसेना के नये सरताज राफेल लड़ाकू विमानों की पहली खेप ने बुधवार को अंबाला एयरफोर्स बेस पर उतरी। वायुसेना ने भी भारतीय आकाश क्षेत्र में प्रवेश से लेकर अंबाला में हुई लैंडिंग तक इनकी जोरदार अगवानी की।

Advertisement
Advertisement
Advertisement