Pakistan: पाकिस्तान की जनता पर शहबाज शरीफ सरकार ने फिर फोड़ा महंगाई का बम, पेट्रोल की कीमत 272 रुपए हुई, डीजल-केरोसीन भी महंगा

पेट्रोल की कीमत में 22.20 रुपए प्रति लीटर बढ़ोतरी हुई है। अब पाकिस्तान में पेट्रोल 272 रुपए प्रति लीटर बिकेगा। डीजल की कीमत भी 17.20 रुपए बढ़ाकर 280 रुपए प्रति लीटर किया गया है। लाइट डीजल 196 रुपए लीटर पर अब पाकिस्तान के लोगों को मिलेगा। केरोसीन का हर लीटर भी अब 202 रुपए का हो गया है।

Avatar Written by: February 16, 2023 10:57 am
pakistan petrol pump

इस्लामाबाद। कर्ज से कराहते कटोरा पकड़े पाकिस्तान की शहबाज शरीफ सरकार अब आम लोगों की जिंदगी बर्बाद करने पर तुल गई है। पाकिस्तान में एक बार फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की गई है। ये बढ़ोतरी शुक्रवार से लागू होगी। पेट्रोल की कीमत में 22.20 रुपए प्रति लीटर बढ़ोतरी हुई है। अब पाकिस्तान में पेट्रोल 272 रुपए प्रति लीटर बिकेगा। डीजल की कीमत भी 17.20 रुपए बढ़ाकर 280 रुपए प्रति लीटर किया गया है। लाइट डीजल 196 रुपए लीटर पर अब पाकिस्तान के लोगों को मिलेगा। केरोसीन का हर लीटर भी अब 202 रुपए का हो गया है। इससे पहले पाकिस्तान सरकार ने जीएसटी और एक्साइज ड्यूटी में इजाफा किया था। जिससे 115 करोड़ रुपए का नया टैक्स बोझ जनता पर डाला गया था।

pakistan petrol pump 1

इससे पहले पाकिस्तान सरकार ने बीती 29 जनवरी को पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत में बढ़ोतरी की थी। इससे पेट्रोल के हर लीटर की कीमत 249.80 रुपए और डीजल के हर लीटर की कीमत 262.80 रुपए हो गई थी। पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत में ताजा बढ़ोतरी से वहां महंगाई से पीड़ित जनता के बीच और हाहाकार मचने के आसार दिख रहे हैं। इससे शहबाज शरीफ के खिलाफ जनता के भड़कने की भी आशंका जताई जा रही है।

shehbaz sharif and imf

दरअसल, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने पाकिस्तान को 2 अरब डॉलर का कर्ज देने के लिए टैक्स बढ़ाने और चीजों की कीमत में बढ़ोतरी करने को कहा था। इसके अलावा भी आईएमएफ ने तमाम और शर्तें रखी हैं। पाकिस्तान सरकार ऐसे में अब जनता पर लगातार बोझ डालती जा रही है। इसके बाद भी अब तक आईएमएफ ने पाकिस्तान को कोई कर्ज नहीं दिया है। खास बात ये है कि चीन, सऊदी अरब और यूएई जैसे पाकिस्तान के पुराने दोस्तों ने भी उसकी मदद अब तक नहीं की है। ऐसे में विदेशी मुद्रा भंडार की किल्लत से जूझ रहे पाकिस्तान के सामने हर दिन मुश्किल बढ़ती ही जा रही है।

Latest