Connect with us

देश

Delhi: विधानसभा में ‘12 लाख’ का बयान देकर घिरे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, बीजेपी ने पूछा- बताओ कब दिए

साल 2018 में दिल्ली सरकार की तरफ से विधानसभा में ही बताया गया था कि करीब 350 युवाओं को नौकरी दी गई है। अब केजरीवाल कह रहे हैं कि 12 लाख युवाओं को नौकरियां उनकी सरकार ने दी हैं। ऐसे में आंकड़ों की ये बाजीगरी ही बीजेपी के हाथ उन्हें घिरवा चुकी है।

Published

on

arvind kejriwal high court

नई दिल्ली। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल बीजेपी के सवालों के घेरे में आ गए हैं। केजरीवाल सरकार के वित्त मंत्री मनीष सिसौदिया ने शनिवार को दिल्ली विधानसभा में बजट पेश किया था। सिसौदिया ने कहा था कि अगले 5 साल में दिल्ली में 20 लाख युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। इसके बाद केजरीवाल ने विधानसभा में दावा किया कि पिछले 7 साल में उनकी सरकार ने 12 लाख युवाओं को नौकरी दी है। इसी दावे को बीजेपी झूठ बता रही है। बीजेपी के नेता कपिल मिश्रा और प्रवेश साहिब सिंह वर्मा ने केजरीवाल से साबित करने को कहा है कि उनकी सरकार ने 12 लाख नौकरियां दी हैं।

बीजेपी के नेता और केजरीवाल के धुर विरोधी कपिल मिश्रा ने ट्वीट में एक आरटीआई जवाब के बारे में बताया है। कपिल मिश्रा ने आरटीआई के हवाले से कहा है कि दिल्ली सरकार ने पिछले 7 साल में सिर्फ 3246 युवाओं को ही नौकरी दी है। वहीं, प्रवेश साहिब सिंह ने केजरीवाल पर तंज कसते हुए कहा है कि केजरीवाल ने सारी नौकरियां यूट्यूब पर डाल दी हैं। उन्होंने भी पूछा है कि केजरीवाल बताएं कि किसे उन्होंने नौकरी दी ? बीजेपी की तरफ से घेरे जाने के बाद केजरीवाल या आम आदमी पार्टी AAP के किसी नेता की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

बता दें कि साल 2018 में दिल्ली सरकार की तरफ से विधानसभा में ही बताया गया था कि करीब 350 युवाओं को नौकरी दी गई है। अब केजरीवाल कह रहे हैं कि 12 लाख युवाओं को नौकरियां उनकी सरकार ने दी हैं। ऐसे में आंकड़ों की ये बाजीगरी ही बीजेपी के हाथ उन्हें घिरवा चुकी है। इस मुद्दे पर दिल्ली विधानसभा में सोमवार को भी हंगामे के आसार हैं। केजरीवाल पहले ही फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ में दिखाए गए तथ्यों को झूठा बताकर बीजेपी और तमाम लोगों के निशाने पर बने हुए हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement