Connect with us

देश

Delhi MCD Election: एमसीडी चुनाव को लेकर जी-बार्क के एग्जिट पोल ने साबित की अपनी विश्वनीयता, खोखले निकले बाकियों के दावे

वहीं, दिल्ली एमसीडी चुनाव के नतीजों को लेकर जारी किए गए एग्जिट पोल पर चर्चाओं का बाजार गुलजार हो चुका है। नतीजों की घोषणा के बाद अब इस बात को लेकर चर्चा हो रही है कि आखिर किसके एग्जिट पोल में कितना दम निकला है? कौन कितना खरा साबित हुआ?

Published

नई दिल्ली। किसी को याद हो या ना हो, लेकिन आम आदमी पार्टी को वो दिन जरूर याद होगा, जब भारतीय मीडिया का हर न्यूज चैनल दिल्ली नगर निगम चुनाव में ‘AAP’ की जीत की भविष्यवाणी करने में मसरूफ था। कोई कुछ दावा कर रहा था, तो कोई कुछ। लेकिन सभी के दावों में एक बात समान थी कि सब दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी की जीत की भविष्यवाणी ही कर रहे थे, तो वहीं बीजेपी को प्रमुख विपक्षी दल का तगमा पहना रहे थे और कांग्रेस की दुर्गति होते हुए दिखा रहे थे। वहीं, अब चुनावी नतीजों की घोषणा हो चुकी है।

आम आदमी पार्टी के खाते में 134 सीटें गईं हैं। बीजेपी को 109 और कांग्रेस 9 सीटों पर ही सिमटकर रह गई और निर्दलीयों तीन सीटों पर जीत हासिल की। वहीं एमसीडी चुनाव में जीत हासिल करने के बाद आम आदमी पार्टी में खुशी की लहर है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने खुद दिल्ली की जनता का शुक्रिया अदा किया है। वहीं, दिल्ली एमसीडी चुनाव के नतीजों को लेकर जारी किए गए एग्जिट पोल पर चर्चाओं का बाजार गुलजार हो चुका है।

नतीजों की घोषणा के बाद अब इस बात को लेकर चर्चा हो रही है कि आखिर किसके एग्जिट पोल में कितना दम निकला है? कौन कितना खरा साबित हुआ? ये एग्जिट पोल खरे साबित हुए या हवा-हवाई ही निकले? ये बड़ा सवाल है और इस सवाल का जवाब जानने के लिए पहले आप यह जान लीजिए कि आखिर एग्जिट पोल में किसने क्या दावा किया था?

सबसे पहले जी-न्यूज के एग्जिट पोल की बात करते हैं। जी- न्यूज ने अपने एग्जिट पोल में बीजेपी के खाते में 82-94 सीटें जीते जाने की भविष्यवाणी की थी। आम आदमी पार्टी के खाते में 134 -146 सीटें जीते जाने की संभावना व्यक्त की गई थी। उधर, कांग्रेस द्वारा 8 -14 सीटें जीते जाने की संभावना व्यक्त की गई थी।

इंडिया टुडे एक्सिस माय इंडिया द्वारा जारी किए गए एग्जिट पोल की बात करें, तो आम आदमी पार्टी के खाते में 149 -171 सीटें जाने की संभावना व्यक्त की गई थी। बीजेपी के खाते में 69-91 सीटें जीतने की संभावना जताई गई थी और कांग्रेस के खाते में 3-7 सीटें जीते जाने की संभावना जताई गई थी। इसके अलावा टी-9 भारतवर्ष ने आम आदमी पार्टी के खाते में 145 और बीजेपी के खाते में 94 सीटें जीतने की संभावना जताई गई थी। कांग्रेस के खाते में 8 सीटें जाने की संभावना जताई गई थी। अन्य के खाते में 3 सीटें जीते जाने की संभावना जताई गई थी।

उधर, एनडीटीवी के एग्जिट पोल ने नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी के खाते में 155 और बीजेपी के खाते में 84 तो कांग्रेस के खाते में 7 सीटें जाने की संभावना जताई गई थी।

अब नगर निगम चुनाव के नतीजों की घोषणा हो चुकी है और यह साफ हो चुका है कि एमसीडी का बॉस कौन है? तो अब एग्जिट पोल की प्रासंगिकता-सार्थकता को लेकर सियासी बहस शुरू हो चुकी है। बहरहाल, उपरोक्त आंकड़ों पर नजर डालने पर मालूम पड़ता है कि अगर जी-न्यूज के एग्जिट पोल को छोड़ दिया जाए, तो सभी चैनलों द्वारा जारी किए गए एग्जिट पोलों की प्रासंगिकता-विश्वनीयता दम तोड़ते हुए नजर आ रहे हैं।

आपको बता दें, दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 134 सीटों पर जीत हसिल की है, तो वहीं बीजेपी ने 109 और कांग्रेस मात्र 9 सीटों पर जीत हासिल करने में कामयाब हुई है। उधर, जी न्यूज ने दो-तीन आंकड़ों के अंतर को छोड़ दिया जाए, तो जारी किए गए एग्जिट पोल बिल्कुल सटीक साबित हुए हैं। बता दें, आम आदमी पार्टी ने जी-न्यूज के एग्जिट के मुताबिक 134 सीटों पर ही जीत हासिल की है।

बता दें, जी न्यूज ने अपने एग्जिट पोल में बीजेपी द्वारा 82-94 सीटें जीते जाने की संभावना जताई थी। उधर, चुनावी नतीजों में बीजेपी 109 सीटों पर जीत हासिल करने में सफल रही है। वहीं, जी न्यूज एग्जिट पोल ने कांग्रेस द्वारा 8-14 सीटें जीते जाने की संभावना जताई गई थी, जबकि नतीजों में कांग्रेस 9 सीटों पर जीत दर्ज करने में सफल रही है। इसके साथ ही बीजेपी द्वारा 134 सीटें जीते जाने की संभावना जताई गई थी, जो कि अब चुनाव नतीजों में बिल्कुल सटीक साबित हुई है। तो इस तरह से आप देख सकते हैं कि किस तरह विभिन्न एग्जिट पोल को धता हुए बताते हुए जी-न्यूज बार्क द्वारा जारी किए गए एग्जिट पोल विश्वनीय साबित हुए हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement