Connect with us

देश

Congress Chintan Shivir: कांग्रेस का चिंतन शिविर घिरा विवादों में, जिस होटल में चल रहा अधिवेशन उस पर BJP सांसद ने किया बड़ा दावा

Congress Chintan Shivir: किरोड़ी लाल मीणा ने अपने ट्विटर हैंडल पर वीडियो जारी करते हुए कहा कि, मैं जयपुर से सोनिया गांधी जी को निवेदन करता हूं कि जो होटल वन विभाग की जमीन पर बनी हुई है जो होटल बाहर को काटकर बनी हुई है। जो होटल उच्च न्यायालय क फैसले के विपरीत बनी हुई है। नदी में रास्ता बनाकर बनी हुई है।

Published

on

नई दिल्ली। अगामी चुनावों को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस पार्टी ने अभी तैयारियां तेज कर दी है। चुनावों में जीत हासिल करने के लिए कांग्रेस पार्टी अब भाजपा के नक्शे कदम पर चलते दिखाई दे रही है। ‘परिवारवाद’ का मोह छोड़कर कांग्रेस अब “एक परिवार, एक टिकट” की पद्धति बनाने पर विचार कर रही है।  इसी के तहत राजस्थान के उदयपुर में तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन किया जा रहा है। आज चिंतन शिविर का दूसरा दिन है। लेकिन कांग्रेस का चिंतन शिविर विवादों में घिर गया है। दरअसल, जिस होटल में कांग्रेस का चिंतन शिविर चल रहा है वह अवैध बिल्डिंग बताई जा रही है। इसका दावा भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने किया गया है। उन्होंने राजस्थान की गहलोत सरकार पर जमकर निशाना भी साधा।

किरोड़ी लाल मीणा ने अपने ट्विटर हैंडल पर वीडियो जारी करते हुए कहा कि, ”मैं जयपुर से सोनिया गांधी जी को निवेदन करता हूं कि जो होटल वन विभाग की जमीन पर बनी हुई है जो होटल बाहर को काटकर बनी हुई है। जो होटल उच्च न्यायालय क फैसले के विपरीत बनी हुई है। नदी में रास्ता बनाकर बनी हुई है। राज्य सरकार के फैसले का खुलम खुला उल्लंघन करके ताक पर रखकर सीएमओ के निर्देश पर जो होटल बना है ये वहां पर कृप्या जो कांग्रेस का चिंतिन शिविर कर रही है ये गलत है। आगे उन्होंने कांग्रेस से चिंतन शिविर का कार्यक्रम को तुरन्त बन्द करने और दूसरे स्थान पर कराए जाने की बात कही। उन्होंने ये भी कहा कि सीएम गहलोत सोनिया गांधी को गुमराह कर रहे है और उनकी आंखों में धूल झोंककर ये अधिवेशन कर रहे है।”

उन्होंने गहलोत सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यह अवैध होटल आदिवासियों की जमीन हड़प कर बनाई है। साथ ही भाजपा सांसद ने मामले की जांच सीबीआई से जांच करने की कही जिससे सच्चाई सबके सामने आ सके। आपको बता दें कि राजस्थान में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement