कन्हैया पर देशद्रोह का मुकदमा चलाये जाने का चिदंबरम ने किया विरोध, तो जनता ने ऐसे सिखाया सबक

जवाहरलाल नेहरू विश्वविधालय (जेएनयू) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर देशद्रोह का मुकदमा चलाये जाने का कांग्रेस ने कड़ा विरोध किया है। पूर्व वित्तमंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने ट्विटर के जरिए अपना विरोध जताया है।

Avatar Written by: February 29, 2020 10:34 am

नई  दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविधालय (जेएनयू) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर देशद्रोह का मुकदमा चलाये जाने का कांग्रेस ने कड़ा विरोध किया है। पूर्व वित्तमंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने ट्विटर के जरिए अपना विरोध जताया है। हालांकि पी चिदंबरम को कन्हैया कुमार का समर्थन करना महंगा पड़ा गया, और सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उनकी जमकर खिचाई कर डाली।

p chidambaram and kanhaiya

दिल्ली सरकार के इस फैसले पर नाराजगी जाहिर करते हुए चिदंबरम ने शनिवार को एक ट्वीट में कहा कि राजद्रोह कानून के बारे में केंद्र सरकार की तरह ही दिल्ली सरकार की भी समझ कम है। मैं भारतीय दंड सहिंता(आईपीसी) की धारा 124ए और 120बी के तहत कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ राजद्रोह का केस चलाने की मंजूरी देने का कड़ा विरोध करता हूं।

Chidambaram Tweet

वहीं कन्हैया कुमार का समर्थन करने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चिदंबरम को लोगोंं ने ट्विटर के जरिए जमकर खरी खोटी सुना डाली। आपको बता दें कि शुक्रवार को दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने कन्हैया पर राजद्रोह का केस चलाने की मंजूरी दे दी है।

क्या है मामला?

आपको बता दें कि जेएनयू में नारेबाजी का वीडियो 9 फरवरी 2016 को सामने आया था, जिसमें कथित रूप से देश विरोधी नारे लगाए गए थे। वीडियो सामने आने के बाद छात्र संघ के तत्कालीन अध्यक्ष कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज हुआ, लेकिन पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दिल्ली सरकार से इसके लिए अनुमति नहीं मिलने की जानकारी दी थी।

Support Newsroompost
Support Newsroompost