कांग्रेस के बागी विधायकों को अब पेश होने के लिए 15 मार्च की डेडलाइन

इन बागी विधायकों में से 6 विधायक को 13 मार्च को स्पीकर एनपी प्रजापति से मुलाकात करनी थी। विधायकों के न आने पर प्रजापति ने कहा कि उन्होंने 3 घंटे तक विधायकों का इंतजार किया, लेकिन कोई नहीं आया।

Written by: March 14, 2020 2:45 pm

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में कांग्रेस के बागी विधायकों की पेशी की नई तारीख तय की गई है। मध्य प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष ने उन्हें 15 मार्च तक पेश होने के लिए कहा है। इससे पहले उन्हें 13 और 14 मार्च को पेश होने के लिए कहा गया था। इस बीच मध्य प्रदेश में विधानसभा के बजट सत्र को टालने की कोशिश की जा रही है।

Madhya Pradesh Chief Minister Kamal Nath

मध्य प्रदेश सरकार कोरोना वायरस के चलते बजट सत्र को आगे बढ़ाने की तैयारी में है। इस बीच कांग्रेस के बागी विधायकों ने बेंगलुरु से भोपाल आने से इनकार कर दिया है। इन सभी 19 विधायकों ने अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है। इन विधायकों को बेंगलुरु के रिजॉर्ट से एयरपोर्ट तक लाया गया था, लेकिन बाद में सभी विधायक यहां से वापस होटल लौट गए।

kamalnath sindhiya cindia

इन बागी विधायकों में से 6 विधायक को 13 मार्च को स्पीकर एनपी प्रजापति से मुलाकात करनी थी। विधायकों के न आने पर प्रजापति ने कहा कि उन्होंने 3 घंटे तक विधायकों का इंतजार किया, लेकिन कोई नहीं आया।

Lalji Tandon

इससे पहले, राज्यपाल लालजी टंडन ने मुख्यमंत्री कमलनाथ की सलाह पर छह मंत्रियों को उनके पदों से हटा दिया। ये सभी कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक हैं। राज्यपाल ने इमरती देवी, तुलसी सिलावट, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रद्युम्न सिंह सिसोदिया और प्रभुराम चौधरी को उनके मंत्री पद से हटाया है।