कोरोना की वैक्सीन के लिए अपनी शरीर देने को तैयार है ये शख्स, स्वास्थ्य मंत्री को मेल लिखकर कही ये बात

आपको बता दें कि इस पत्र को जनक राज ने सोशल मीडिया पर भी डाला है, जहां उनके इस कार्य की जमकर तारीफ हो रही है और लोग उन्हें रियल हीरो कह रहे हैं।

Avatar Written by: April 12, 2020 4:10 pm

नई दिल्ली। कोरोना महामारी से दुनियाभर में लाखों लोग शिकार हो चुके हैं, और अभी ना जाने कितने लोग इसकी चपेट में आएंगे। ऐसी आशंका इसलिए भी है क्योंकि अभी तक कोरोनावायरस से निजात दिलाने वाली वैक्सीन खोजी नहीं जा सकी है। हालांकि इसको लेकर दुनियाभर के तमाम वैज्ञानिक अपने कामों में लगे हुए हैं।

Italy corona

इन सबके बीच जनक राज नाम के एक शख्स ने कोरोना से मुक्ति दिलाने वाली वैक्सीन के प्रयोग के लिए अपनी शरीर दान देने की मंशा जाहिर की है। इस शख्स ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन को मेल लिखा है कि, ‘दुनियाभर में इस महामारी ने भुचाल ला दिया है, इससे लाखों लोगों की मौत हो चुकी है। किसान व मजदूर वर्ग भी इससे सबसे ज्यादा प्रभावित है जो प्रतिदिन कमाकर अपना और अपने परिवार का पेट भरता है।’

harshvardhan janak raj

जनक राज ने अपने मेल में लिखा है कि, ‘इस महामारी से निजात दिलाने के लिए दुनियाभर में कोशिशें जारी हैं, जिसमें इसकी वैक्सीन व दवा खोजना भी शामिल है। भारत व दुनियाभर के वैज्ञानिक व डॉक्टर्स इसकी खोज में लगे हैं।’ डॉक्टर हर्षवर्धन से इस शख्स ने कहा है कि, ‘जैसा कि आप खुद एक डॉक्टर हैं और भली-भांति जानते हैं कि किसी भी नई वैक्सीन व दवा को आम मानव जाति पर लागू करने से पहले जानवरों पर प्रयोग में लाया जाता है, और उसके बाद इसे मानव जाति पर लागू किया जाता है, तो ऐसे में कई ऐसी स्वैच्छिक शरीर की आवश्यकता होगी जिसपर इस वैक्सीन का इस्तेमाल हो सके। ऐसे में इस महान कार्य के लिए और संपूर्ण मानव जाति की सुरक्षा के लिए मैं तैयार हूं।’

janak raj mail

मेल में जनक ने लिखा है कि, ‘मैं जनक राज सुपुत्र श्रीचंद, अपने पूरे होशोहवास में, पूर्ण इच्छा से, अपने शरीर को भारत या दुनिया में कहीं भी, जहां कोविड-19 की वैक्सीन खोजी जा रही हो, उसके परीक्षण के लिए अपनी शरीर देने को तैयार हूं।’

आपको बता दें कि इस पत्र को जनक राज ने सोशल मीडिया पर भी डाला है जहां उनके इस कार्य की जमकर तारीफ हो रही है और लोग उन्हें रियल हीरो कह रहे हैं। हालांकि मानव जाति की रक्षा के लिए इससे पहले भी लोगों द्वारा अपने शरीर को वैक्सीन के प्रयोग के लिए देने की बात सामने आ चुकी है।

शायर और फिल्मों में संवाद लेखक रितेश रजवाड़ा ने भी इससे पहले देहदान करने की मंशा जाहिर कर चुके हैं। उन्होंने इस बाबत स्वास्थ्य मंत्री को मेल किया था जिसमें उन्होंने लिखा था कि, कोरोना की वैक्सीन के लिए वो अपनी शरीर प्रयोग के लिए देने को तैयार हैं।