दिल्ली में शुरू हुआ डोर टू डोर कैंपेन, CAA को लेकर लोगों का भ्रम दूर करेंगे अमित शाह

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लोगों में फैले भ्रम को दूर करने के लिए भारतीय जनता पार्टी आज से घर-घर जाकर लोगों को इस कानून को समझाने का काम शुरु किया है।जिसकी शुरुआत आज से अमित शाह ने कर दी है।

Written by: January 5, 2020 6:00 pm

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लोगों में फैले भ्रम को दूर करने के लिए भारतीय जनता पार्टी आज से घर-घर जाकर लोगों को इस कानून को समझाने का काम शुरु किया है।जिसकी शुरुआत आज से अमित शाह ने कर दी है। बता दें, 10 दिन तक चलने वाले इस कार्यक्रम के तहत भाजपा के मंत्री और नेता देश के 3 करोड़ लोगों तक पहुंचेंगे और अपनी बात रखेंगे।

दरअसल दिल्ली में आगामी चुनावों को देखते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को एक कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने भाजपा के डोर टू डोर कैंपेन में हिस्सा लिया। इस दौरान वह लाजपत नगर पहुंचे।

जहां उन्होंने भाजपा कैंपेन में हिस्सा लेते हुए डोर टू डोर पंफलेट बांटे। इन पंफलेट के जरिए उन्होंने लोगों को नागरिकता कानून के बारे में जानकारी दी है। आपको बता दें कि अमित शाह कई बार कह चुके हैं कि लोगों में सीएए को लेकर भ्रम पैदा किया जा रहा है। उनका कहना है कि लोगों को गलत जानकारी देकर उन्हें भड़काया जा रहा है। इसके चलते उन्होंने यह कम्पेन शुरू किया है। जिसके जरिए वह लोगों को जागरूक कर रहे हैं।

वहीं इससे पहले गृहमंत्री अमित शाह ने बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं से संवाद किया। इस दौरान तालकटोरा स्टेडियम में हजारों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता पहुंचे। गृहमंत्री अमित शाह ने कार्यकर्ताओं का हौसला बुलंद करते हुए दावा किया कि इस बार दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार बनेगी।

इसके साथ ही उन्होंने एक बार फिर सीएए को लेकर कांग्रेस और आप सरकार पर झूठ फैलाने और दंगा भड़काने का आरोप लगाया। इसके साथ ही एक बार फिर नागरिकता कानून का विरोध कर रहे लोगों को आश्वासन दिया कि इससे किसी की नागरिकता खतरे में नहीं है।