कोरोना से लड़ाई के मामलों में पूरे देश में बेहतर गुजरात, पिछले दस दिनों में दोगुने से अधिक हुआ पेशेंट डिस्चार्ज रेट

कोरोना से लड़ाई में गुजरात उपलब्धियों के नए कीर्तिमान बना रहा है। गुजरात में कोरोना के मरीज़ बेहद तेज गति से ठीक हो रहे हैं।

Written by: May 15, 2020 3:40 pm

नई दिल्ली। कोरोना से लड़ाई में गुजरात उपलब्धियों के नए कीर्तिमान बना रहा है। गुजरात में कोरोना के मरीज़ बेहद तेज गति से ठीक हो रहे हैं। कोरोना के मरीजों के ठीक होने की यह दर पूरे देश के औसत से भी अधिक है। अब तक गुजरात में कोरोना के 3753 मरीज़ इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं।

corona

कल यानि 14 मई को राज्य के स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव जंयती रवि ने बताया कि राज्य में 191 लोग बीमारी से ठीक हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। संक्रमण को मात देने वालों की तादाद 3,753 है। गुजरात में संक्रमितों की संख्या 9,592 है जिनमें से 5,253 लोगों का इलाज अब भी इलाज चल रहा है। वहीं 586 लोगों की संक्रमण की वजह से मौत हो चुकी है। इसके अलावा राज्य में 1,24,709 नमूनों की जांच की गई है।

Gujrat Corona Report

गुजरात का पेशेंट डिस्चार्ज रेट पिछले 14 दिनों में दोगुने से भी अधिक हो गया है। यह पहले 15.58 फीसदी हुआ करता था जो अब बढ़कर 39.13 फीसदी पहुंच चुका है। यह उपलब्धि मायने रखती है। गुजरात का ये औसत पूरे देश के राष्ट्रीय औसत 34.06 फीसदी से भी अधिक है।

CM vijay rupani

दूसरे राज्यों के मुकाबले गुजरात में कोरोना के ठीक हो रहे मरीजों की दर बेहद अधिक है। पंजाब में कोरोना के मरीजों के ठीक होने की दर केवल 9 फीसदी है। चंडीगढ़ में यह 14 फीसदी, महाराष्ट्र में 19 फीसदी, ओडिशा में 21 फीसदी जबकि पश्चिम बंगाल मे यह 21 फीसदी तक सीमित है।

vijay rupani and nitin patel 3

तमिलनाडु में कोरोना के मरीजों के ठीक होने की दर 28 फीसदी है जबकि दिल्ली में यह 32 फीसदी है। गुजरात इस मायने में इन सभी राज्यों से आगे है। गुजरात में कोरोना के मरीजों के ठीक होने का आंकड़ा 39.13 फीसदी है जिसे दूसरा कोई भी राज्य छू नहीं सका है।