राम मंदिर भूमि पूजन पर गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कही ये बात

उन्होंने लिखा, ‘आज का दिन भारत के लिए एक ऐतिहासिक व गौरवपूर्ण दिन है। प्रभु श्री राम की जन्मभूमि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन व शिलान्यास किया गया, जिसने महान भारतीय संस्कृति व सभ्यता के इतिहास का एक स्वर्णिम अध्याय लिखा है और एक नए युग की शुरुआत की है।’

Avatar Written by: August 5, 2020 4:21 pm

नई दिल्ली। गृहमंत्री अमित शाह ने अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन और शिलान्यास को देश में एक नए युग की शुरुआत बताया है। उन्होंने बुधवार के दिन को भारत के लिए ऐतिहासिक और गौरवपूर्ण बताया। गृहमंत्री अमित शाह ने राम मंदिर के निर्माण को प्रधानमंत्री के मजबूत और निर्णायक नेतृत्व का प्रतीक बताया। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में प्रस्तावित राम मंदिर के लिए आधारशिला रख दी है। बुधवार को निर्माण से पहले भूमि पूजन कराया गया, जिसमें हिस्सा लेने पीएम मोदी अयोध्या गए। इस कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह को भी शामिल होना था, लेकिन चूंकि वो कोरोनावायरस से संक्रमित हैं, ऐसे में वो अपना इलाज करा रहे हैं। हालांकि, अस्पताल में भर्ती गृहमंत्री अमित शाह ने इस मौके पर ट्वीट जरूर किया।

pm modi amit shah

अमित शाह ने पीएम मोदी का आभार किया व्यक्त

उन्होंने लिखा, ‘आज का दिन भारत के लिए एक ऐतिहासिक व गौरवपूर्ण दिन है। प्रभु श्री राम की जन्मभूमि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन व शिलान्यास किया गया, जिसने महान भारतीय संस्कृति व सभ्यता के इतिहास का एक स्वर्णिम अध्याय लिखा है और एक नए युग की शुरुआत की है।’

उन्होंने कहा, ‘प्रभु श्री राम जी के आदर्श एवं विचार भारतवर्ष की आत्मा में बसते हैं. उनका चरित्र एवं जीवन दर्शन भारतीय संस्कृति की आधारशिला है। राम मंदिर निर्माण से यह पुण्यभूमि अयोध्याजी पुनः विश्व में अपने पूर्ण वैभव के साथ जग उठेगी. धर्म और विकास के समन्वय से रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे।’

इस भव्य प्रभु श्री राम मंदिर का निर्माण प्रधानमंत्री जी के मजबूत और निर्णायक नेतृत्व को दर्शाता है. इस अविस्मरणीय दिन पर सभी भारतवासियों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। मोदी सरकार भारतीय संस्कृति और उसके मूल्यों की रक्षा व संरक्षण के लिए हमेशा कटिबद्ध रहेगी।’

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘प्रभु श्री राम मंदिर निर्माण असंख्य नाम-अनाम रामभक्तों के सदियों के निरंतर त्याग, संघर्ष, तपस्या और बलिदान का परिणाम है। आज के दिन मैं उन सभी तपस्वियों को नमन करता हूं जिन्होंने इतने वर्षों तक सनातन संस्कृति की इस अमूल्य धरोहर के लिए संघर्ष किया।’

Support Newsroompost
Support Newsroompost