Uttar Pradesh: यूपी में कैसे होगा कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य, सीएम योगी आदित्यनाथ खुद रख रहे नजर, ड्राई रन का किया निरीक्षण

Uttar Pradesh: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने यहां आरएमएलआईएमएस का भ्रमण कर कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के सम्बन्ध में वहां संचालित किए जा रहे ड्राई रन (Dry Run) का निरीक्षण किया। ड्राई रन के अन्तर्गत चिकित्सा संस्थान में संचालित गतिविधियों पर संतोष व्यक्त करते हुए उन्होंने सम्पूर्ण प्रदेश में ड्राई रन को सुव्यवस्थित ढंग से करने के निर्देश दिए हैं।

Avatar Written by: January 5, 2021 4:45 pm

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां आरएमएलआईएमएस का भ्रमण कर कोरोना वैक्सीन के सम्बन्ध में वहां संचालित किए जा रहे ड्राई रन का निरीक्षण किया। ड्राई रन के अन्तर्गत चिकित्सा संस्थान में संचालित गतिविधियों पर संतोष व्यक्त करते हुए उन्होंने सम्पूर्ण प्रदेश में ड्राई रन को सुव्यवस्थित ढंग से करने के निर्देश दिए हैं।

निरीक्षण के पश्चात आज यहां लोक भवन में एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आज सम्पूर्ण प्रदेश में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन आयोजित किया जा रहा है। प्रत्येक जनपद के 3 ग्रामीण तथा 3 शहरी क्षेत्रों में इसके तहत कार्यवाही प्रगति पर है। कोरोना वैक्सीनेशन कार्य को प्रदेश में सुचारु ढंग से सम्पन्न करने में ड्राई रन अत्यन्त उपयोगी सिद्ध होगा। इसके दृष्टिगत राज्य सरकार द्वारा इस कार्य को तत्परता से सम्पन्न करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य प्रत्येक दशा में भारत सरकार द्वारा निर्धारित क्रम के अनुरूप किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के दृष्टिगत अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इस दृष्टि से कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का कार्य प्रभावी ढंग से सम्पन्न किया जाए। सर्विलांस सिस्टम को सक्रिय एवं सुदृढ़ बनाए रखा जाए। उन्होंने कोविड-19 की मेडिकल टेस्टिंग को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए प्रत्येक स्तर पर सावधानी बरती जाए। लोगों को कोरोना से बचाव के बारे में निरन्तर जागरूक किया जाए। जागरूकता सृजन के लिए विभिन्न प्रचार माध्यमों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का व्यापक उपयोग किया जाए। उन्होंने समस्त सरकारी कार्यालयों, व्यापार प्रतिष्ठानों तथा एमएसएमई इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क व्यवस्था को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने प्रदेश में अब तक 3.50 लाख से अधिक लोगों द्वारा ई-संजीवनी एप का उपयोग किए जाने पर संतोष व्यक्त करते हुए अधिक से अधिक जरूरतमंदों को इस एप के माध्यम से ऑनलाइन चिकित्सीय परामर्श का लाभ उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि ई-संजीवनी एप का निरन्तर व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए।

Support Newsroompost
Support Newsroompost