Connect with us

देश

India-China Standoff: भारत-चीन के बीच आज 10वें दौर की वार्ता

India-China Standoff: इस दौरान कमांडर्स हॉट स्प्रिंग्स, गोगरा और 900 वर्ग किमी वाले डेपसांग मैदान जैसे टकराव वाली जगहों को लेकर बात करेंगे। यह बातचीत सुबह 10 बजे चीनी पक्ष के मोल्डो में शुरू होगी। बता दें कि डेपसांग को पिछले साल मई में शुरू हुए गतिरोध का हिस्सा नहीं माना जा रहा था।

Published

on

India China Army

नई दिल्ली। वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर भारत और चीन के बीच तनाव में कमी देखने को मिली रही हैं। इसी बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) की विभिन्न विवादित जगहों से तैनाती हटाने को लेकर आज भारत और चीन (India-China) के सैन्य प्रतिनिधि 10वें दौर की वार्ता करेंगे। इस दौरान कमांडर्स हॉट स्प्रिंग्स (Hot Springs ), गोगरा (Gogra) और 900 वर्ग किमी वाले डेपसांग मैदान जैसे टकराव वाली जगहों को लेकर बात करेंगे। यह बातचीत सुबह 10 बजे चीनी पक्ष के मोल्डो (Moldo) में शुरू होगी। सेना सूत्रों ने इसकी जानकारी दी है। बता दें कि डेपसांग को पिछले साल मई में शुरू हुए गतिरोध का हिस्सा नहीं माना जा रहा था।

वहीं भारत की ओर से बैठक का नेतृत्व लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन करेंगे, जो लेह स्थित 14वीं कोर के कमांडर हैं। वहीं चीनी पक्ष का नेतृत्व मेजर जनरल लिउ लिन करेंगे, जो चीनी सेना के दक्षिणी शिनजियांग सैन्य जिले के कमांडर हैं।

Indian -China Army

इससे पहले चीन ने पहली बार माना कि गलवान घाटी (Galwan Valley) में उसके भी सैनिक मारे गए थे। गलवान घाटी में भारतीय सेना के साथ हुए संघर्ष में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के चार सैनिकों की मौत हो गई थी और एक के घायल होने की सूचना मिली थी। चीन ने शुक्रवार को पहली बार इन्हें सम्मानित किया। चीनी मीडिया ने इसकी जानकारी दी है। बता दें कि गलवान घाटी में दोनों पक्षों के बीच पिछले साल हुई हिंसा में भारत ने अपने 20 सैनिकों को खो दिया था। जबकि चीन में कभी भी मारे गए सैनिकों की संख्या घोषित नहीं की।

 

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement