Connect with us

देश

Rohingyas: देश की सुरक्षा के लिए रोहिंग्या बड़ा खतरा, खुफिया रिपोर्ट में पाक और आतंक से रिश्ते का हुआ खुलासा

रोहिंग्या मूल रूप से म्यांमार के रखाइन प्रांत के हैं। वहां की 2014 की जनगणना के मुताबिक रखाइन में 21 लाख की आबादी में से करीब 10 लाख रोहिंग्या हैं। म्यांमार सरकार ने इनको नागरिकता देने से इनकार कर दिया है। वो इन रोहिंग्या को बांग्लादेश से अवैध तौर पर आया मानता है। भारत में बड़े पैमाने पर रोहिंग्या मुसलमानों ने अवैध घुसपैठ की है।

Published

on

rohingya 1

नई दिल्ली। बीते दिनों दिल्ली में फ्लैट दिए जाने की खबरों के बाद म्यांमार से आने वाले रोहिंग्या मुसलमान एक बार फिर चर्चा में हैं। अब इन रोहिंग्या को लेकर चौंकाने वाली जानकारी मिली है। हिंदी न्यूज चैनल ‘जी न्यूज’ के मुताबिक खुफिया ब्यूरो ने घुसपैठिए रोहिंग्याओं को भारत की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बताया है। चैनल की खबर के मुताबिक पाकिस्तान अब इन रोहिंग्या के गुट बना रहा है। उन्हें घुसपैठ की ट्रेनिंग के साथ आतंकी वारदात कराने के लिए भी पाकिस्तान में हाईटेक ट्रेनिंग दी जा रही है। जानकारी ये भी मिली है कि अब रोहिंग्या बांग्लादेश के रास्ते न आकर नेपाल के रास्ते आ रहे हैं और नेपाल से ही पाकिस्तान भी पहुंच रहे हैं।

intelligence bureau ib

रोहिंग्या मूल रूप से म्यांमार के रखाइन प्रांत के हैं। वहां की 2014 की जनगणना के मुताबिक रखाइन में 21 लाख की आबादी में से करीब 10 लाख रोहिंग्या हैं। म्यांमार सरकार ने इनको नागरिकता देने से इनकार कर दिया है। वो इन रोहिंग्या को बांग्लादेश से अवैध तौर पर आया मानता है। बीते दिनों खबरें आई थीं कि रोहिंग्या के जरिए मानव तस्करी का जाल थाईलैंड और मलेशिया तक फैला है। थाईलैंड में 92 हजार रोहिंग्या पहुंचे थे। वहां से 14000 को वापस भेजा जा चुका है। इस्लामी देश इंडोनेशिया ने भी इनके इरादे भांपते हुए एक भी रोहिंग्या की नाव को अपने तट से लगने नहीं दिया। जो भी रोहिंग्या इंडोनेशिया पहुंचे, उन्हें तुरंत हिरासत में लेकर वापस भेज दिया गया।

rohingya 2

खुफिया ब्यूरो के मुताबिक भारत में रोहिंग्या बड़ा खतरा हैं। बीते दिनों बिहार पुलिस ने कट्टरपंथी संगठन PFI के दो सदस्यों को पकड़ा था। उन दोनों ने बताया कि पीएफआई लगातार रोहिंग्या और बांग्लादेशी घुसपैठियों के जरूरी सरकारी कागजात भी बनवा रहा है। हजारों रोहिंग्या को पीएफआई ने बिहार, यूपी, हरियाणा, दिल्ली, जम्मू, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में भेजा है। वहीं, इनसे बांग्लादेश और नेपाल भी परेशान हैं। बांग्लादेश में ड्रग्स, महिला तस्करी, आतंकी वारदात में रोहिंग्या के लिप्त होने का खुलासा पहले ही हुआ था।

Advertisement
Advertisement
Advertisement