सिसोदिया के बयान से पैदा हुआ डर, दिल्ली में 31 जुलाई तक नहीं होंगे 5.50 लाख कोरोना केस: अमित शाह

दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने को लेकर शाह ने कहा कि हमने दिल्ली सरकार को तत्काल 500 ऑक्सीजन सिलेंडर, 440 वेंटिलेटर दिए हैं। एंबुलेंस के लिए दिल्ली सरकार को कहा है कि प्राइवेट कंपनियों के साथ मिलकर आप इनकी जरूरत पूरी कर सकते हैं।

Written by: June 28, 2020 3:14 pm

नई दिल्ली। कोरोना की हालत को देखते दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा था कि, दिल्ली में 31 जुलाई तक 5.50 केस होंगे। इस बयान के बाद दिल्लीवासियों में एक डर का माहौल व्याप्त हो गया। इस बयान को लेकर अब देश के गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि, “दिल्ली सरकार की ओर से 31 जुलाई तक 5.50 लाख मामले पहुंचने की बात कही जा रही है, ऐसा दिल्ली में नहीं होगा।”

amit shah

सिसोदिया के बयान से दिल्ली में डर पैदा हुआ

अमित शाह ने कहा कि दिल्ली के डिप्टी मनीष सिसोदिया के बयान के कारण राजधानी में कोरोना को लेकर डर पैदा हुआ। हम कोरोना से निपटने के लिए तैयार हैं। सिसोदिया ने जितने केस बताए हैं,  कोरोना के इतने मामले दिल्ली में नहीं आएंगे। दिल्ली के हालात को लेकरअमित शाह ने कहा कि 14 तारीख को कॉर्डिनेशन की बैठक की। दिल्ली सरकार, एमसीडी और भारत सरकार के बीच समन्वय के लिए ये बैठक जरूरी थी। भारत सरकार इसमें बहुत मदद कर सकती है। कई विशेषज्ञों की मदद ली जा सकती है, इसलिए कोरोना के खिलाफ व्यापक अभियान के लिए हमने ये बैठक की।

30 जून तक कंटेनमेंट जोन के हर घर का सर्वेक्षण हो जाएगा

न्यजू एजेंसी ANI को दिए इंटरव्यू में गृह मंत्री ने कहा कि आज मैं कह सकता हूं कि दिल्ली के डिप्टी सीएम का जो 5.5 लाख कोरोना केस वाला जो बयान था, वो स्थिति अब दिल्ली में नहीं आएगी। दिल्ली में 30 जून तक कंटेनमेंट जोन के हर घर का सर्वेक्षण हो जाएगा। बाद में दिल्ली में घर-घर सर्वेक्षण किया जाएगा।

manish sisodia and arvind kejriwal

दिल्ली में स्वास्थ्य सेवा बेहतर

दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने को लेकर शाह ने कहा कि हमने दिल्ली सरकार को तत्काल 500 ऑक्सीजन सिलेंडर, 440 वेंटिलेटर दिए हैं। एंबुलेंस के लिए दिल्ली सरकार को कहा है कि प्राइवेट कंपनियों के साथ मिलकर आप इनकी जरूरत पूरी कर सकते हैं। हमने 3 टीमों का गठन किया, जिसमें दिल्ली सरकार के और एम्स के डॉक्टर हैं, और आईसीएमआर के विशेषज्ञ हैं। उन्होंने सभी जगह की कमियों को ठीक करने का हर प्रयास किया है।

Corona

रिकवरी रेट बेहतर

आपको बता दें कि कोरोना में रिकवरी रेट जो 25 मार्च को 7.1 प्रतिशत था, वो आज के अनुसार 57 प्रतिशत है। ये बहुत अच्छी स्थिति है। विकसित देशों की तुलना में भारत ने इस लड़ाई को बहुत अच्छे से लड़ा है। कल तक के आंकड़ों के अनुसार, प्रति 10 लाख आबादी में भारत में 357 लोग कोरोना संक्रमित हैं और विश्व में 1250 लोग संक्रमित हैं। अमेरिका में 7569, ब्रिटेन में 4537, ब्राजील में 5802 लोग, प्रति 10 लाख की आबादी में संक्रमित हैं।