Connect with us

देश

The Kashmir Files: ‘द कश्मीर फाइल्स’ का विरोध करते हुए शरद पवार ने भाजपा के खिलाफ लगाया हिंदुओं को भड़काने का आरोप, जानिए क्या कहा

The Kashmir Files: कश्मीरी पंडितों के पलायन पर आधारित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ रिलीज के एक महीने बाद भी लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। शरद पवार का कहना है कि एक शख्स ने हिंदुओं पर हुए अत्याचार पर फिल्म बनाई। इससे पता चलता है कि बहुसंख्यक हमेशा अल्पसंख्यक पर हमला करते हैं।

Published

on

नई दिल्ली। कश्मीरी पंडितों के पलायन पर आधारित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ रिलीज के एक महीने बाद भी लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। दर्शकों ने फिल्म पर खूब प्यार बरसाया है। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर कमाई के मामले में भी कीर्तिमान स्थापित किए हैं। हालांकि, इस फिल्म के आलोचकों की संख्या भी काफी ज्यादा है। आम लोगों से लेकर कई राजनीतिक हस्तियां इस फिल्म की आलोचना कर रहे हैं। इस लिस्ट में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार का नाम भी शामिल है। शरद पवार ने एक हफ्ते के अंदर लगातार दूसरी बार फिल्म की आलोचना की है। फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर पवार ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

शरद पवार का कहना है कि एक शख्स ने हिंदुओं पर हुए अत्याचार पर फिल्म बनाई। इससे पता चलता है कि बहुसंख्यक हमेशा अल्पसंख्यक पर हमला करते हैं। जब मुसलमान बहुसंख्यक होता है तो हिंदु समुदाय असुरक्षित महसूस करता है। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि सत्ता में बैठे लोगों ने इस फिल्म का प्रचार कर रहे हैं। NCP अध्यक्ष ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ का जिक्र करते हुए आरोप लगाया कि धार्मिक आधार पर समाज में दरार पैदा करने की कोशिश की जा रही है।


बता दें कि, NCP अध्यक्ष शरद पवार अमरावती में पार्टी समर्थकों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि जब भी एक छोटा समुदाय समस्याओं से घिरा हुआ होता है तो बहुसंख्यक उन पर हमला करता है। पवार ने ये भी कहा था कि ये सच है कि कश्मीरी पंडितों को घाटी छोड़नी पड़ी, लेकिन मुसलमानों को भी इसी तरह निशाना बनाया गया। आज इस असुरक्षा पैदा करने के लिए एक सुनियोजित साजिश की जा रही है। ऐसे पहली बार नहीं है जब शरद पवार ने फिल्म को लेकर बयान दिया है। इससे पहले उन्होंने कहा था कि ऐसी फिल्म को स्क्रीनिंग के लिए मंजूरी नहीं मिलनी चाहिए थी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement