निर्भया के गुनाहगारों का काउंटडाउन करीब, तिहाड़ प्रशासन ने परिवार से आखिरी मुलाकात के लिए चिट्ठी भेजी

निर्भया के गुनहगार अब अपने अंजाम पर पहुंचने ही वाले हैं। इस बात के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं। तिहाड़ प्रशासन ने सभी गुनाहगारों को आखिरी चिट्ठी लिखी है। यह चिट्ठी इनके परिवार से अंतिम मुलाकात के लिए है।

Written by: February 22, 2020 10:48 am

नई दिल्ली। निर्भया के गुनहगार अब अपने अंजाम पर पहुंचने ही वाले हैं। इस बात के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं। तिहाड़ प्रशासन ने सभी गुनाहगारों को आखिरी चिट्ठी लिखी है। यह चिट्ठी इनके परिवार से अंतिम मुलाकात के लिए है। इस चिट्ठी के मुताबिक निर्भया के दो गुनाहगार पहले ही अपने परिवार से अंतिम मुलाकात कर चुके हैं। अब बाकी बचे दो गुनाहगारों को यह मौका दिया जाएगा।

Nirbhaya Accused

तिहाड़ प्रशासन के मुताबिक उन्होने सभी चार दोषियों अक्षय, पवन, मुकेश, विनय को लेटर लिखा है। ये लेटर उनके परिवार से आखिरी मुलाकात के लिए है। पर मुकेश और पवन को भेजी चिट्ठी में लिखा है कि वे एक फरवरी के पुराने डेथ वारंट से पहले अपने परिवार से आखिरी मुलाकात कर चुके हैं। जबकि अक्षय और विनय से पूछा गया है कि वे अपने परिवार से आखिरी मुलाकात कब करना चाहते हैं?

tihar jail

इसके साथ तिहाड़ प्रशासन ने यूपी जेल को भी लेटर लिख दिया है कि 3 मार्च को फांसी की तारीख है। उससे दो दिन पहले ही जल्लाद को तिहाड़ भेज दिया जाए। इस बीच विनय जिसने हाल में खुद को चोट पहुचाने की कोशिश की थी उसपर ज्यादा नजर रखी जा रही है।

Nirbhaya Case

तिहाड़ प्रशासन को अंदेशा है कि वह कहीं खुद को दोबारा नुकसान पहुचाने की कोशिश न करे, इसकी खातिर सेल के अंदर बाहर दोनों तरफ सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं। अभी तक गुनहगार पवन के पास अंतिम विकल्प बचा है। उसने अब तक न तो क्यूरेटिव पिटीशन लगाई है और न ही मर्सी। कानून के जानकारों के मुताबिक पवन इनका इस्तेमाल फांसी को टालने के लिए कर सकता है।