राम मंदिर निर्माण के लिए दान में मिला एक क्विंटल सोना-चांदी, जानें किस-किसने दिया दान

ऐसे में राम मंदिर निर्माण के लिए बड़ी संख्या में चंदा दिया जा रहा है। जिससे मंदिर निर्माण सुचारू रूप से किया जा सके।

Avatar Written by: August 8, 2020 5:35 pm

नई दिल्ली। राम मंदिर भूमि पूजन का कार्क्रम 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों संपन्न हुआ इसके साथ ही मंदिर के निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ऐसे में राम मंदिर निर्माण के लिए बड़ी संख्या में चंदा दिया जा रहा है। जिससे मंदिर निर्माण सुचारू रूप से किया जा सके। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने शनिवार को एक क्विंटल सोना-चांदी और पैसे राम मंदिर ट्रस्ट को सौंप दिए। महंत नृत्य गोपाल दास को राम भक्तों ने बीते एक महीने में ये सोना-चांदी और पैसे दान में दिए थे।

President of Ram Mandir Trust Nitya Gopal Das

महंत नृत्य गोपाल दास ने ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय को एक क्विंटल सोना-चांदी और पैसे सौंप दिए। बता दें कि रामलला की आधारशिला रखने से पहले ही राम भक्तों के द्वारा राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष और महासचिव के पास सहयोग की राशियां मिलने लगी थीं। अब तक राम मंदिर ट्रस्ट को तकरीबन 30 करोड़ रुपये और कई टन सोना और चांदी दान में मिल चुके हैं।

ram mandir New model picture

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि राम मंदिर निर्माण को लेकर पिछले 2 महीने से ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के पास आ रहे राम भक्त कुछ ना कुछ दे रहे थे। विशेष रुप से चांदी दे रहे थे। वही मणिराम दास छावनी के पुजारी दिवंगत बजरंग दास ने भी मंदिर निर्माण के लिए 40 किलो के चांदी के ईंट दी थी। ऐसे ही 10 किलो 1 किलो 5 किलो कुल मिलाकर एक क्विंटल चांदी रखी थी और सोने के दाने भी थे जिसे आज सुरक्षित रखने के लिए ट्रस्ट को सौंपा है।

Ram Mandir Modi

अयोध्या में राम जन्मभूमि की आधारशिला रखे जाने के लिए ट्रस्ट के द्वारा सभी तीर्थ स्थलों की मिट्टी और जल मंगाया गया था और आज भी उसका लगातार आना जारी है। भारत के प्राचीन तीर्थ स्थल और समुद्र सरोवर और कुंडों के जल का आना अनवरत जारी है। शनिवार को बुलंदशहर से द्वादश महा लिंगेश्वर महापीठ 11 वर्षों से अभिमंत्रित रुद्राक्ष तथा 21 अभिमंत्रित चांदी के सिक्के 12 ज्योतिर्लिंग के मिट्टी और जल चांदी के नाग-नागिन के जोड़े वास्तु दोष निवारण यंत्र और नौ रत्नों को श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास को सौंपा गया।

Ram Mandir

ट्रस्ट के सदस्यों से यह मांग की गई है कि यह सारा सामान राम जन्मभूमि के नींव के अंदर डाला जाए, जिससे कि मंदिर निर्माण की बाधाएं समाप्त हो और यथाशीघ्र राम मंदिर का निर्माण शुरू हो। राम मंदिर निर्माण में सहयोग के लिए अकेले महंत नृत्य गोपाल दास की मणिराम दास छावनी पर एक क्विंटल से ज्यादा सोना और चांदी आया है, जिसको आज ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के माध्यम से ट्रस्ट को सौंपा गया है।

Ram Mandir neev

वहीं ट्रस्ट का कहना है कि अगले कुछ दिनों में राम मंदिर ट्रस्ट से जुड़े हुए लोग घर-घर जाएंगे और राम भक्तों से सहयोग मांगेंगे। मंदिर निर्माण की सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं और जल्दी मंदिर निर्माण शुरू होगा हमारी इच्छा है। 2022 की रामनवमी भगवान के गर्भ ग्रह में बनाया जाए मौजूदा समय में फैली महामारी की वजह से कार्य में देरी जरूर हुई है, लेकिन उसके बाद भी हमारी प्राथमिकता रहेगी कि हम समय से कार्य पूरा कर लें।