Connect with us

देश

चीन को अलविदा कह Samsung अब UP में लगायेगी फैक्ट्री, योगी सरकार ने दी रियायतों की सौगात

UP: दुनिया की दिग्गज आईटी कम्पनियों में शुमार सैमसंग, अब उत्तर प्रदेश में मोबाइल और आईटी डिसप्ले उत्पादों का निर्माण करेगी।सैमसंग की यह यूनिट इससे पहले चीन में स्थापित थी। नोएडा में स्थापित होने जा रहे सैमसंग के इस नए मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की स्थापना से प्रदेश में करीब 4825 करोड़ रुपये का निवेश होगा।

Published

on

Samsung and Yogi Adityanath

लखनऊ। दुनिया की दिग्गज आईटी कम्पनियों में शुमार सैमसंग, अब उत्तर प्रदेश में मोबाइल और आईटी डिसप्ले उत्पादों का निर्माण करेगी।सैमसंग की यह यूनिट इससे पहले चीन में स्थापित थी। नोएडा में स्थापित होने जा रहे सैमसंग के इस नए मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की स्थापना से प्रदेश में करीब 4825 करोड़ रुपये का निवेश होगा। यही नहीं भारत, ओएलईडी तकनीक से निर्मित मोबाइल डिस्प्ले मैन्युफैक्चरिंग करने वाला दुनिया का तीसरा देश भी बन जाएगा। भारी-भरकम निवेश और औद्योगिक विकास को देखते हुए योगी सरकार ने सैमसंग के इस प्रोजेक्ट को विशेष प्रोत्साहन देने का फैसला किया है। शुक्रवार को प्रदेश मंत्रिपरिषद ने इस संबंध में निर्णय लिया।

Samsung

मंत्रिपरिषद के निर्णयानुसार मेसर्स सैमसंग डिस्प्ले नोएडा प्राइवेट लिमिटेड को उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रानिक्स विनिर्माण नीति -2017 के अन्तर्गत पूंजी उपादान, भूमि हस्तान्तरण पर स्टाम्प ड्यूटी में छूट की अनुमन्यता होगी। चीन से विस्थापित होकर उत्तर प्रदेश आ रही इस परियोजना को पूंजी उपादान के लिए भारत सरकार द्वारा निर्धारित मानकों के अनुसार स्थिर पूंजी निवेश में पुरानी मशीनों की लागत को भी अनुमन्य किया जायेगा। इस परियोजना के लिए प्रदेश सरकार पर 5 वर्षों की अवधि में ₹250 करोड़ का वित्तीय उपाशय अनुमानित है। इस इकाई में करीब डेढ़ हजार लोगों को सीधे तौर पर रोजगार मिलेगा। कंपनी को भारत सरकार की योजना “स्कीम फॉर प्रोमोशन ऑफ मैन्युफैक्चरिंग ऑफ इलेक्ट्रानिक कम्पोनेन्ट्स एण्ड सेमीकण्डक्टर्स” के अन्तर्गत भी लगभग ₹460 करोड़ का वित्तीय प्रोत्साहन भी प्राप्त होगा।

samsung sign

डिस्प्ले प्रोडक्ट बाजार पर है सैमसंग का कब्जा:

विश्व में टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट, घड़ियों आदि में उपयोग होने वाले कुल डिस्प्ले उत्पाद का 70 प्रतिशत से अधिक सैमसंग द्वारा दक्षिण कोरिया, वियतनाम तथा चीन में निर्मित होता है। डिस्प्ले इकाईयों का प्रस्तावित निवेश मूल उत्पाद का एक ज्यादा लागत वाला हाई टेक्नोलोजी कम्पोनेन्ट है, जो बीच की सप्लाई चेन की कड़ी को पूर्ण करने के लिये तथा भविष्य में प्रदेश में डिस्प्ले से सम्बन्धित फैब इकाई की स्थापना हेतु यह इकाई एक मील का पत्थर साबित होगी। विगत वित्तीय वर्ष में 27 बिलियन डॉलर के निर्यात के साथ मेसर्स सैमसंग उत्तर प्रदेश में सबसे बड़ा निर्यातक है। सैमसंग ग्रुप ने अगले पांच वर्षों में कुल 50 बिलियन डालर का निर्यात लक्ष्य रखा है।

Advertisement
Advertisement
मनोरंजन6 hours ago

Vijayanand Movie Review: कांतारा की तरह कन्नड़ा इंडस्ट्री की एक और बेहतरीन और जरूर देखी जाने वाली फिल्म “विजयानंद”, पढ़िए विजयानंद मूवी रिव्यू

देश9 hours ago

Delhi News : DCW में नियुक्तियों में भ्रष्टाचार के मामले में स्वाति मालीवाल की बढ़ी मुश्किलें, तीन लोग और शामिल

gujarat assembly election 123
देश10 hours ago

Gujarat Election Final Result : गुजरात चुनाव में कौन किस सीट से जीता, कौन हारा, यहां देखें पूरी लिस्ट

देश11 hours ago

Gujarat Elections Result : ‘चुनाव हारने वाले हार पचा नहीं पाएंगे, जुल्म बढ़ेंगे पर हमें तैयार रहना होगा’ गुजरात जीत के बाद संबोधन में बोले पीएम मोदी

देश13 hours ago

Rampur Bypoll Results: आजम के गढ़ में पहली बार किसी हिंदू प्रत्याशी ने अपने प्रतिद्वंदी को दी मात, हार से बौखलाए आसीम राजा ने कह दी ऐसी बात

Advertisement