Air India: महिला पर पेशाब करने के मामले में आरोपी शंकर मिश्रा को मिली बड़ी राहत, जानिए पूरा माजरा

सचिन कुमार Written by: January 31, 2023 5:34 pm

नई दिल्ली। न्यूयॉर्क से नई दिल्ली आ रही एयर इंडिया विमान पर बुजुर्ग महिला पर पेशाब करने के मामले में आरोपी शंकर मिश्रा को पटियाला हाउस कोर्ट ने जमानत दे दी है। उसे 6 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था। विदेश भाग जाने की आशंका के मद्देनजर उसके खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया था। उधर, आरोपी ने अपने ऊपर लगे आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था और यहां तक कहने से गुरेज नहीं किया था कि महिला ने खुद अपने ऊपर पेशाब कर लिया था, उसने नहीं। आरोपी ने कहा था कि महिला कथक डांसर हैं और कथक डांसरों को अपने पेशाब पर नियंत्रण नहीं होता है, जिसकी वजह से उसने खुद ही अपने ऊपर पेशाब कर लिया था और अब मेरे ऊपर बेवजह आरोप लगा रही है। बता दें कि आरोपी द्वारा दिए गए इस बयान के बाद सियासी गलियारों से भी रोषयुक्त प्रतिक्रिया सामने आई थी।

ध्यान रहे कि आरोपी शंकर मिश्रा अमेरिका की एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में वाइस प्रेसिडेंट के पद पर नियुक्त था, लेकिन बाद में पेशाब प्रकरण में नाम आने के बाद उसे बर्खास्त कर दिया गया था। बीते 6 जनवरी को उसे बेंगलुरु स्थित गेस्ट हाउस से गिरफ्तार किया गया था। यही नहीं, आरोपी का नाम भी नो फ्लाई जोन में डाल दिया गया था। ध्यान रहे कि किसी भी शख्स का नाम नो फ्लाइ जोन में आने के बाद उसे हवाई यात्रा करने की इजाजत नहीं होती है। इसके अलावा एयर इंडिया विमान पर मामले को संज्ञान में लेने के बाद कोताही बरतने का आरोप लगा था।

पीड़ित महिला के मुताबिक, मामले की शिकायत करने के बाद भी आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। आरोपी नशे में धुत था। महिला ने बताया कि जब उसने पूरे मामले की शिकायत उच्चाधिकारियों से की थी, तब जाकर कार्रवाई गई थी। हालांकि, पहले यह भी खबर आई थी कि दोनों पक्षों के बीच मामले में समझौता हो चुका था, लेकिन आरोपी द्वारा पीड़ित महिला को अनुबंधित रकम नहीं दिए जाने के बाद मामले का खुलासा कर दिया था।

air india pee case and shankar mishra

इसके अलावा बीते दिनों आरोपी के पिता ने भी अपने बेटे का बचाव किया था। कहा था कि मैं अपने बेटे को अच्छे से जानता हूं। वो ऐसा नहीं कर सकता है। वो महिला उसकी मां की उम्र की है। भला वो ऐसा उसके साथ ऐसा कैसे कर सकता है। आरोपी के पिता ने महिला द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था। यही नहीं, आरोपी के पिता ने मीडिया द्वारा मामले की कवरेज को लेकर भी सवाल उठाए थे। उन्होंने अपने बेटे का बचाव किया था। कहा था कि मेरे बेटा ऐसा नहीं कर सकता था। यही नहीं, उन्होंने मामले की निष्पक्ष जांच की भी मांग की थी। उधर, इस पूरे प्रकरण के प्रकाश में आने के बाद एयर इंडिया ने सभी यात्रियों के लिए दिशानिर्देश जारी किए थे, जिसको मानने के लिए सभी यात्री बाध्य थे। बहरहाल, अब इस पूरे मामले में आरोपी को अंतरिम जमानत दिए जाने के यह पूरा प्रकरण आगामी दिनों में क्या रुख अख्तियार करता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।

Latest