(वीडियो) बॉर्डर पर चीन को सबक सिखाने के लिए सेना के जवान तैयार, मोदी सरकार ने सर्दियों के लिए ये खास इंतजाम

Eastern Ladakh: पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर भारत और चीन के बीच पिछले कई महीनों से तनाव बना हुआ है। इस बीच भारतीय सेना ने दुश्मनों से पहले बर्फीले तूफानों से निपटने की तैयारी पूरी कर ली है।

Avatar Written by: November 18, 2020 4:15 pm
Indian China LAC

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर भारत और चीन के बीच पिछले कई महीनों से तनाव बना हुआ है। इस बीच भारतीय सेना ने दुश्मनों से पहले बर्फीले तूफानों से निपटने की तैयारी पूरी कर ली है। दरअसल सेना ने पूर्वी लद्दाख में सेना के जवानों के रहने की व्यवस्था को अपग्रेड किया है। अब जवानों को यहां पर ज्यादा सुविधाएं मिलेंगी। बता दें कि पूर्वी लद्दाख ऐसा सेक्टर है, जहां हर साल सर्दियों के दौरान 30 से 40 फीट तक बर्फबारी होती है, वहीं बात करें तापमान की तो माइनस 40 डिग्री तक नीचे चला जाता है।

Indian Army deployed in winters

सोशल मीडिया पर सेना की ओर से एक वीडियो भी जारी किया है। इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि सेना को कड़ाके की ठंड से बचने के लिए भारत सरकार ने खास इंतजाम किए है। बुधवार को सेना ने एक बयान जारी कर कहा कि, ‘ठंड में सीमा पर तैनात जवानों की ऑपरेशनल क्षमता को बढ़ाने के लिए भारतीय सेना ने सेक्टर में जवानों के रहने की फैसिलिटीज़ का अपग्रेडेशन खत्म किया है।’ बयान में सेना ने बताया, ‘पिछले सालों में तैयार एकीकृत सुविधाओं वाले कैंपों के अलावा बिजली, पानी, हीटिंग की सुविधा, स्वास्थ्य और स्वच्छता की उत्कृष्ट सुविधाएं जोड़ी गई हैं। इसके साथ ही सेना की ओर बताया गया कि जवानों की तैनाती को देखते हुए उन्हें हीटरयुक्त टेंट की सुविधा दी जा रही है। इसके अलावा, सैनिकों के किसी भी आकस्मिक जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त नागरिक बुनियादी ढांचे भी बनाए जा रहे है।

बता दें कि पूर्वी लद्दाख पिछले कुछ महीनों से चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद को लेकर भी चर्चा में रहा है। यहां पर ही जून में गलवान घाटी में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के साथ हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के 20 जवानों की जानें चली गई थीं। वहीं, चीनी सेना को भी जबरदस्त नुकसान पहुंचा था।