Farm Bills 2020 : कृषि बिल पर विपक्ष को स्मृति ईरानी ने सुनाई खरी खोटी, किसानों से किया ये वादा

Smriti Irani on Farm Bills 2020 : संसद के दोनों सदनों से पारित हो चुके कृषि बिल (Farm Bills) को लेकर विपक्ष लगातार राजनीति करने में लगा हुआ है। वहीं अब कृषि बिल का विरोध करने वाले विपक्षी दलों को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Union Minister Smriti Irani) ने जमकर खरी खोटी सुनाई है।

Avatar Written by: September 23, 2020 9:30 pm
smriti irani on photo

नई दिल्ली। संसद के दोनों सदनों से पारित हो चुके कृषि बिल (Farm Bills) को लेकर विपक्ष लगातार राजनीति करने में लगा हुआ है। वहीं अब कृषि बिल का विरोध करने वाले विपक्षी दलों को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Union Minister Smriti Irani) ने जमकर खरी खोटी सुनाई है। स्मृति ईरानी ने कांग्रेस (Congress) पर वार करते हुए कहा कि, जो राजनीतिक भ्रम आज कांग्रेस पार्टी फैलाने का काम कर रही है। वो आज देश के सामने उनका पर्दाफाश कर रहा है। उन्होंने अपने 10 साल के कार्यकाल में स्वामीनाथन रिपोर्ट को लागू नहीं कर पाई। मोदी सरकार (Modi Government) ने इसे लागू किया और 1.5 गुना ज्यादा न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) दिया। उन्होंने यह भी कहा कि किसान सम्मान निधि योजना (Kissan Samman Nidhi Yojana) के तहत, 90 करोड़ से ज्यादा रुपये 10 करोड़ से ज्यादा किसानों के खातों में डाले गए। स्मृति ईरानी ने एमएसपी को लेकर कहा कि एमएसपी सिस्टम को लागू रखना हमारा संवैधानिक वादा है।

स्मृति ईरानी ने कहा कि मोदी सरकार स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट (Swaminathan Commission Report) लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार ने 2020-21 के लिए एमएसपी रेट्स (MSP Rates) की घोषणा संसद में की है। ईरानी ने कहा कि किसानों से संवैधानिक वादा है कि एमएसपी सिस्टम लागू रहेगा। स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस को न्यूनतम समर्थन मूल्य की चिंता नहीं है लेकिन उनकी एकमात्र चिंता यह है कि मोदी सरकार इन सुधारों को क्यों लागू कर रही है।

स्मृति ईरानी ने कहा कि ये साफ है कि मोदी सरकार किसानों के फायदे के बारे में सोच रही है। हमें ये समझना होगा कि जब सरकार संसद में कुछ कहती है तो यह देश की जनता के प्रति उसका वादा होता है।