AstraZeneca ने जगाई उम्मीद, WHO को भी है भरोसा दुनिया को जल्द मिलेगी वैक्सीन

कोरोना प्रकोप के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक राहत की खबर दी है। डब्ल्यूएचओ ने शुक्रवार को कहा कि एक साल के अंदर कोरोना की वैक्सीन आ सकती है। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक यूके स्थित एस्ट्राजेनेका कंपनी वैक्सीन की दौड़ में आगे है।

Avatar Written by: June 27, 2020 12:25 pm

जिनेवा। कोरोना प्रकोप के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक राहत की खबर दी है। डब्ल्यूएचओ ने शुक्रवार को कहा कि एक साल के अंदर कोरोना की वैक्सीन आ सकती है। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक यूके स्थित एस्ट्राजेनेका कंपनी वैक्सीन की दौड़ में आगे है, जबकि यूएस-आधारित फार्मास्युटिकल प्रमुख मॉडर्न भी बहुत पीछे नहीं है। डब्ल्यूएचओ की शीर्ष वैज्ञानिक डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि एस्ट्राजेनेका की कोरोना वायरस वैक्सीन सबसे एडवांस वैक्सीन है जो वर्तमान में विकास के मामले में बेहतर है।

AstraZeneca

सौम्या स्वामीनाथन ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, “मुझे लगता है कि कोरोना से निपटने के लिए एस्ट्राजेनेका निश्चित रूप से इस समय एक अधिक वैश्विक गुंजाइश है जहां वे अपने वैक्सीन के परीक्षणों की योजना बना रहे हैं”। ब्रिटिश ड्रग मेकर के सीईओ ने इस महीने बेल्जियम के रेडियो स्टेशन बेल आरटीएल को बताया कि ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा विकसित एस्ट्राजेनेका के कोविड-19 वैक्सीन उम्मीदवार को संभवतः रोग से सुरक्षा प्रदान करेगा।

CORONA WHO

बता दें कि इससे पहले डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अधेनॉम गेब्रेसियस ने कहा कि यह निश्चित नहीं किया जा सकता है कि वैज्ञानिक कोरोना के खिलाफ प्रभावी वैक्सीन विकसित कर पाएंगे। हमें उम्मीद है कोविड-19 की वैक्सीन आएगी। यह अगले एक साल के अंदर तैयार हो सकती है। बता दें कि डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस ने यह बात यूरोप की संसदीय स्वास्थ्य कमेटी से ऑनलाइन कॉफ्रेंसिंग के दौरान कही।

who trados

टेड्रोस के मुताबिक, हमारे पास कोरोना की वैक्सीन कभी नहीं थी। इसलिए जब यह तैयार होगी तो सामने आएगी। इसे तेजी से तैयार करने के प्रयास जारी हैं। ऐसे में हो सकता है कि यह एक साल के अंदर या कुछ महीने में भी तैयार हो सकती है। वैज्ञानिक भी यही बात कर रहे हैं। वर्तमान में सौ से अधिक कोविड-19 वैक्सीन कैंडिडेट डेवलपमेंट के विभिन्न चरणों में हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost