प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पत्रकारों पर भड़क उठे ट्रंप, कहा चीन से सवाल करो, फिर किया कुछ ऐसा

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर व्हाइट हाउस में रोज़ होने वाली प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एक पत्रकार से उलझ गए।

Avatar Written by: May 12, 2020 4:37 pm

वॉशिंगटन। अमेरिका में कोरोनावायरस का प्रकोप सबसे ज्यादा फैला हुआ है। अमेरिकी सरकार के आगे अपने नागरिकों को इस महामारी से बचाने की बड़ी चुनौती है। इसके लिए डोनाल्ड ट्रंप प्रेस रिलीज करके लगातार अपनी राय रख रहे हैं। लेकिन इन प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अक्सर सवालों के जवाब देते हुए गुस्सा भी जाहिर करते रहते हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर व्हाइट हाउस में रोज़ होने वाली प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एक पत्रकार से उलझ गए। अमेरिका में कोरोना संक्रमण से रोजाना हो रही हजारों मौतों से जुड़े एक सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा कि ये सब आपको चीन (China) से जाकर पूछना चाहिए। ट्रंप इसके बाद काफी गुस्से में नज़र आए और प्रेस कांफ्रेस बीच में ही छोड़ कर चले गए।

बता दें कि ये सवाल करने वालीं पत्रकार एशियाई मूल की थीं। ट्रंप के चीन से सवाल पूछने के जवाब के बाद इस पत्रकार ने ट्रंप ने फिर पूछ लिया कि क्या वे उनके एशियाई होने की वजह से ऐसा कह रहे हैं? इस पर ट्रंप गुस्से में प्रेस कांफ्रेंस छोड़कर चले गए। प्रेस वार्ता के दौरान एशियाई अमेरिकी पत्रकार जियांग ने ट्रंप से सवाल किया था कि वे कोरोनो वायरस की वैक्सीन बनाने में सहयोग को वैश्विक प्रतियोगिता के रूप में क्यों देखते हैं, जबकि इससे अब तक 80,000 से अधिक अमेरिकियों की मौत हो गई है?

लेकिन जियांग के इस सवाल पर ट्रंप भड़क गए और कहा कि मुझ से मत पूछिए, चीन से सवाल पूछें, ठीक है? इसके बाद ट्रंप ने सवाल को टालना चाहा लेकिन जियांग ने पूछ लिया कि उनके इस जवाब की वजह उनका एशियाई होना तो नहीं है? इसके जवाब में ट्रंप ने कहा कि मैं आपको बता रहा हूं, मैं इसे विशेष रूप से किसी के लिए नहीं कह रहा हूं। यह जवाब उन सभी के लिए है जो मुझसे बुरा सवाल पूछते हैं। इस पर जियांग ने कहा कि यह एक बुरा सवाल नहीं है। फिर ट्रंप बोले, ‘इससे क्या फर्क पड़ता है?’ इसके बाद ट्रंप ने किसी के सवाल का जवाब नहीं दिया और प्रेस कांफ्रेंस को अधूरा छोड़कर चले गए।

उधर ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों को कोरोना वायरस प्रकोप के जल्द फिर से लौटने की आशंका है लेकिन उन्होंने उम्मीद का दामन नहीं छोड़ा है। व्हाइट हाउस के भीतर महामारी की चुनौतियां अब भी देखने को मिल रही हैं जहां उपराष्ट्रपति माइक पेंस अपने एक सहयोगी के संक्रमित पाए जाने के बाद भी व्हाइट हाउस में बिना मास्क लगाए नज़र आए। पूरी दुनिया में वायरस के प्रकोप के बीच संतुलन बिठाने की कोशिश की जा रही है जहां वैश्विक नेता लॉकडाउन में छूट देने के साथ ही संक्रमण के दूसरे दौर के प्रति भी आगाह कर रहे हैं।