PM Narendra Modi 70th Birthday: 70 साल के हुए पीएम मोदी, 70 साल के गणतंत्र का सबसे सुनहरा अध्याय

PM Narendra Modi 70th Birthday: नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने वह कर दिखाया जो न तो उनसे पहले कोई कर पाया और ना उनके बाद कोई कर पाएगा, इसके बारे में कोई भी भविष्यवाणी (Prediction) नहीं कर सकता है।

Avatar Written by: September 17, 2020 9:32 pm
Prime Minister of Narendra Modi addresses a joint sitting of parliament

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जीवन के 70 साल पूरे कर लिए। आज उनका 70वां जन्मदिन है। पूरे देशभर में उनके प्रशंसकों ने आज उनका जन्मदिन मनाया। वहीं इस देश को गणतंत्र हुए भी 70 साल पूरे हो गए हैं। गुजरे 70 सालों के इतिहास में पीएम मोदी जैसा महानायक इस देश को दूसरा नहीं मिला। पीएम मोदी ने जिस वक्त देश की बागडोर संभाली, उस समय देश बेहद ही बुरे और अस्थिर दौर से गुजर रहा था। लोगों ने मोदी के रूप में अपने नायक को चुना। मोदी की झोली को अपनी उम्मीदों, आशाओं और अपेक्षाओं से देश की जनता ने भर दिया। बदले में मोदी ने इतिहास रच दिया। न भूतो, न भविष्यति। नरेंद्र मोदी ने वह कर दिखाया जो न तो उनसे पहले कोई कर पाया और ना उनके बाद कोई कर सकेगा, इसके बारे में कोई भी भविष्यवाणी नहीं कर सकता है।

PM Narendra Modi

भारत जैसे विविधताओं वाले देश में मोदी का एक सबल राष्ट्रनायक बनकर उभरना आम जनता के भरोसे का चरमोत्कर्ष था। पीएम मोदी ने लोकप्रियता के मामले में जाति, उम्र, धर्म, वर्ग, मजहब, मान्यता सरीखी सारी सीमाओं को तोड़ दिया। इस दौरान उन्होंने न सिर्फ ऐतिहासिक फैसले लिए बल्कि इतिहास के सबसे मुश्किल वक्त में देश ही नहीं बल्कि विश्व का भी नेतृत्व किया। स्वच्छ भारत अभियान से लेकर लद्दाख में चीन को धूल चटाने तक पीएम मोदी ने देश के स्वर्णिम इतिहास के पन्नों में कई सुनहरे अध्याय जोड़े। पीएम मोदी का जन्मदिन एक राष्ट्रीय पर्व बन गया है तो इसके पीछे उनके लिए ऐेतिहासिक निर्णय, उन्हें लागू करने की इच्छाशक्ति और काम की चरम ईमानदारी है। किसी ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि एक रोज वास्तव में ऐसा होगा कि कोई सरकार जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के कलंक से मुक्त कर देगी। मगर पीएम मोदी ने इतिहास के इस अध्याय को भी अपनी संकल्प शक्ति से सच कर दिखाया। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर में देश के वो सभी कानून लागू हो गए, जिन्हें 70 साल तक लागू नहीं किया जा सका था। राज्य के सरकारी दफ्तरों में तिरंगा लहराने लगा। पाकिस्तान और चीन के होश फाख्ता हो गए। मोदी सरकार ने इन दो देशों को जो घाव दिया, वह इतिहास में अविस्मरणीय रहेगा।

PM Narendra Modi

इतिहास जब भी मोदी सरकार के निर्णयों का आकलन करेगा, इसे स्वतंत्र भारत के सबसे स्वर्णिम अध्याय के तौर पर याद रखेगा। मोदी सरकार की नागरिकता क्रांति के फैसले ने देश के भीतर बड़ा बदलाव ला दिया। इसके तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों को भारत में नागरिकता का अधिकार मिल गया। यानी इन देशों के हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी और ईसाई जो सालों से शरणार्थी की जिंदगी जीने को मजबूर थे, उन्हें भारत की नागरिकता प्राप्त करने का अधिकार मिल गया। पड़ोसी देशों से जान बचाकर भागे लोग जो सालों तक भारत में शरणार्थी बने रहे अब वो भारत के नागरिक कहलाने लगे हैं। ऐसे लोगों के लिए पीएम मोदी किसी फरिश्ते से कम नही हैं।

मोदी सरकार के दौर में एक, दो साल या दशक का नहीं बल्कि शताब्दियों का इतिहास लिखा गया है। लगभग पांच सौ साल से चले आ रहे देश के सबसे बड़े विवाद, अयोध्या का हल भी मोदी सरकार के कार्यकाल में पूरी शांति और सहयोग के जरिए संपन्न हो गया। मोदी सरकार की सक्षम निर्णय क्षमता की एक गवाही यह भी रही कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तुरंत बाद मोदी सरकार ने राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का गठन कर दिया। अब भूमिपूजन के बाद अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण का काम शुरू हो चुका है।

Narendra-Modi World leader

पीएम मोदी की अगुवाई में बीजेपी ने अल्पसंख्यकों का भरोसा जीतने की क्रांति भी की है। मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक की कुप्रथा से आजादी दिलाई। ऐसी मुस्लिम महिलाएं जो तीन तलाक के डर के साए में जीने को मजबूर थीं अब आत्मसम्मान के साथ अपनी जिंदगी जी रही हैं। देश अपने आत्मसम्मान और आत्मस्वाभिमान की पराकाष्ठा के साथ जी रहा है। चीन को हाल ही में मोदी सरकार ने जो सबक सिखाया है, वह विश्व का कोई भी राष्ट्र नहीं कर सका है। एलओसी पर चीन से रणनीतिक महत्व की चोटियां छीनकर भारत ने पूरा का पूरा खेल ही बदल दिया। इस उपलब्धि में भी पीएम मोदी ने हमेशा की तरह फ्रंट से लीड किया। उन्होंने खुद लद्दाख का दौरा कर वहां के कठिन हालातों का जायजा लिया और भारतीय सेना के जवानों का हौसला बढ़ाते हुए उन्हें कार्यवाही की खुली छूट दी। यह पीएम मोदी के नेतृत्व की दृढ़ता का ही परिणाम था कि सेना ने 2019 में बालाकोट में एयर स्ट्राइक करके पाकिस्तान को घुटनों के बल पर ला दिया। पीओके में आतंकियों के लॉंन्च पैड ध्वस्त कर दिए गए। इससे पहले एक सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तान को पहले ही पीएम मोदी अपने निर्णय से चेतावनी दे चुके थे।

PM Narendra Modi

पीएम मोदी का नेतृत्व स्वतंत्र भारत के इतिहास में एक बेहद ही क्रांतिकारी घटना है। इस घटना ने देश के विकास की दशा और दिशा बदल दी। भारत आज विश्वगुरु बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। पीएम मोदी का जन्मदिन इस देश के लिए राष्ट्रीय पर्व बन चुका है। हर देशवासी को इस राष्ट्रीय पर्व पर गर्व है।