AAP विधायक अमानतुल्लाह खान ने दिया विवादित बयान लेकिन चुप हैं इसपर केजरीवाल

इस पूरे मामले पर एक बार फिर आप के विधायक अमानतुल्लाह खान ताहिर हुसैन के बचाव में सामने आ गए और सोशल मीडिया पर उन्होंने ताहिर की गिरफ्तारी को धर्म सो जोड़कर एक नया बखेड़ा खड़ा कर दिया।

Written by: March 7, 2020 8:24 pm

नई दिल्ली। उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुई हिंसा में शामिल होने के आरोपी पार्षद ताहिर हुसैन को लेकर दिल्ली पुलिस एक्शन में नजर आ रही है। पुलिस ने ताहिर हुसैन की लाइसेंसी पिस्टल और कई कारतूस दिल्ली जब्त किए हैं। पिस्टल को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है, ताकि ये पता लगाया जा सके कि इसी पिस्टल से फायर हुआ था या नहीं। वहीं इस पूरे मामले पर एक बार फिर आप के विधायक अमानतुल्लाह खान ताहिर हुसैन के बचाव में सामने आ गए और सोशल मीडिया पर उन्होंने ताहिर की गिरफ्तारी को धर्म सो जोड़कर एक नया बखेड़ा खड़ा कर दिया।

amantullah khan

ताहिर हुसैन को बेगुनाह बताने की कोशिश इससे पहले भी अमानतुल्लाह खान कर चुके हैं। आज सोशल मीडिया पर अपने ट्वीट में अमानतुल्लाह कान ने ताहिर का बचाव करते हुए लिखा कि आज ताहिर हुसैन सिर्फ़ इस बात की सज़ा काट रहा है की वो एक मुस्लिम है। शायद आज हिंदुस्तान में सबसे बड़ा गुनाह मुस्लिम होना है ये भी हो सकता है आने वाले वक्त में ये साबित कर दिया जाए कि दिल्ली की हिंसा ताहिर हुसैन ने कराई है।

इस पूरे बयान पर एरविंद केजरीवाल की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। जबकि ताहिर हुसैन को पार्टी की तरफ से निष्काषित कर दिया गया है। वहीं केजरीवाल यह भी मांग कर चुके हैं कि अगर उनकी पार्टी से जुड़ा कोई भी आदमी दोषी है तो उसको दोगुनी सजा मिलनी चाहिए। ताहिर हुसैन के निष्काषण का आदेश देने के लगभग आधे घंटे के अंदर यही आप विधायक अमानतुल्लाह खान थे जिन्होंने ताहिर हुसान को निर्दोष साबित करते हुए ट्वीट कर दिया था। अब ताहिर हुसैन जब पुलिस की गिरफ्त में है उसकी जमानत याचिका अदालत से खारिज कर दी गई है उसे पुलिस कस्टडी में रखा गया है तो इस पर भी विवादित बयान देने से अमानतुल्लाह रूके नहीं।

amantullah khan kejriwal

इसके बाद अमानतुल्लाह खान को लोगों ने सोशल मीडिया पर जमकर फटकार लगानी शुरू कर दी है।

बता दें कि आईबी ऑफिसर अंकित शर्मा की हत्या के आरोपी निलंबित आप पार्षद ताहिर हुसैन को लेकर दिल्ली पुलिस की टीम शुक्रवार की देर शाम कड़कड़डूमा कोर्ट पहुंची। सुनवाई के बाद कोर्ट ने उसे सात दिनों के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। इससे पहले ताहिर हुसैन गुरुवार को कोर्ट में सरेंडर करने के लिए पहुंचा था, जहां पर दिल्ली पुलिस की टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया था। ताहिर ने इससे पहले कोर्ट में अग्रिम जमानत की अर्जी भी दाखिल की थी, जिसे खारिज कर दिया गया था।

Tahir Hussain

गौरतलब है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के संबंध में दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार तक 683 एफआईआर दर्ज की है और 1983 लोगों की धरपकड़ की है. वहीं, आर्म्स एक्ट के तहत 48 मामले दर्ज किए गए हैं।