अयोध्या की जमीन तो लेगा पर मस्जिद नही बनाएगा सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड, जानिए क्या है प्लान?

अयोध्या मामले में सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने एक अहम फैसला किया है। सूत्रों के मुताबिक सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड जमीन लेने के लिए तैयार हो गया है। उसे सुप्रीम कोर्ट के फैसले से 5 एकड़ जमीन मिली है

Avatar Written by: February 21, 2020 5:02 pm

नई दिल्ली। अयोध्या मामले में सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने एक अहम फैसला किया है। सूत्रों के मुताबिक सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड जमीन लेने के लिए तैयार हो गया है। उसे सुप्रीम कोर्ट के फैसले से 5 एकड़ जमीन मिली है मगर वह यहां मस्जिद बनाने के हक में नहीं है। बोर्ड इस बात पर विचार कर रहा है यहां पर एक शैक्षिक संस्था खोली जाए।

Ayodhya Research Institute

इससे पहले सुन्नी वक्फ बोर्ड को जमीन देने के प्रस्ताव को भी यूपी कैबिनेट की मंजूरी मिल चुकी है। अयोध्या के सोहावल तहसील के धन्नीपुर गांव में सुन्नी वक्फ बोर्ड को 5 एकड़ जमीन देने का प्रस्ताव पास हो चुका है। सूत्रों के मुताबिक बोर्ड ने इस जमीन की पड़ताल कर ली है  और उसे धन्नीपुर में मस्जिद के लिए दी गई जमीन पसंद आ गई है। सुन्नी वक्फ बोर्ड इस नतीजे पर पहुंचा है कि इस प्रस्तावित जमीन को मंजूर कर लिया जाए।

Supreme Court

बातचीत इस संदर्भ में भी चल रही है कि इस शिक्षण संस्थान के साथ ही हिंदू-मुस्लिम एकता के प्रतीक किसी संस्थान का निर्माण भी किया जाए। बोर्ड के मुताबिक प्रस्तावित जमीन काफी अच्छी है। बोर्ड ने पहले भी  सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानने की बात की है, इसीलिए उसने पुनर्विचार याचिका या क्यूरेटिव याचिका दाखिल नहीं की।

Support Newsroompost
Support Newsroompost