सरकारी नौकरी को लेकर केंद्र सरकार का कांग्रेस को जवाब, कहा जारी रहेगी…

केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से उत्पन्न आर्थिक संकट (Economic Crisis) के बीच सरकारी खर्चों पर अंकुश लगाने के लिए शुक्रवार को जारी किए गए व्यय विभाग (Department of expenditure) ने सरकारी नौकरियों (Government jobs) के लिए भर्ती पर कोई असर नहीं डाला है।

Avatar Written by: September 5, 2020 9:27 pm

नई दिल्ली। कोरोना संकट की वजह से जहां पूरी दुनिया आर्थिक संकट के दौर से गुजर रही है। वहीं भारत में भी विपक्षी दल कांग्रेस (Congress) इस बात को लगातार जनता के सामने लाने की कोशिश में लगी हुई है कि केंद्र सरकार की तरफ से देश के युवाओं को रोजगार (Employement) देने की नाकामयाब कोशिश हो रही है। कांग्रेस (Congress) का कहना है कि सरकारी पदों के लिए जितनी भी जगहें खाली पड़ी है सब पर केंद्र सरकार ने नई नियुक्ति के लिए रोक लगा दी है। ऐसे में केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से उत्पन्न आर्थिक संकट (Economic Crisis) के बीच सरकारी खर्चों पर अंकुश लगाने के लिए शुक्रवार को जारी किए गए व्यय विभाग (Department of expenditure) ने सरकारी नौकरियों (Government jobs) के लिए भर्ती पर कोई असर नहीं डाला है।

government job

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि सरकारी एजेंसियों जैसे कि एसएससी, रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड में पहले की ही तरह भर्तियां जारी रहेंगी। वित्त मंत्रालय ने एक नोटिफिकेशन जारी करते हुए साफ किया है कि भारत सरकार में खाली पदों को भरने के लिए किसी भी नई भर्ती पर रोक नहीं लगाई गई है।


मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि एक जुलाई, 2020 के बाद यदि कोई नया पद बनाया गया है, जिसके लिए व्यय विभाग की मंजूरी नहीं ली गई है, और इस पर यदि नियुक्ति नहीं हुई है, तो इसे रिक्त ही रखा जाए। मंत्रालय की तरफ से ये भी कहा गया है कि व्यय विभाग (04 सितंबर 2020) का जो सर्कुलर है, वो पदों के निर्माण के लिए आंतरिक प्रक्रिया से संबंधित है और यह किसी भी तरह से भर्ती को प्रभावित नहीं करता है।

government job

मंत्रालयों/विभागों से परामर्शकों की नियुक्ति की समीक्षा करने, आयोजनों में कटौती करने और छपाई के लिए आयातित कागत का इस्तेमाल बंद करने की सलाह दी गई है। जानकारी के लिए बता दें कि चालू वित्त वर्ष के दौरान राजकोषीय घाटे में भारी वृद्धि की आशंका के बीच सरकार ने सभी मंत्रालयों/विभागों से गैर-जरूरी खर्चों को कम करने के लिए कहा कहा है।