Connect with us

देश

चीन की धोखेबाजी, तमाम बातचीत के बाद भी फिंगर-4 से पीछे नहीं हट रहा, भारतीय सेना अलर्ट

चीन की नापाक हरकतों को देखकर लग रहा है कि लद्दाख में भारत चीन के बीच विवाद अब और बढ़ सकता है। जिसके चलते LAC पर भारतीय सेना ने अपनी तैयारी बढ़ा दी है।

Published

on

china-india

नई दिल्ली। चीन की नापाक हरकतों को देखकर लग रहा है कि लद्दाख में भारत चीन के बीच विवाद अब और बढ़ सकता है। जिसके चलते LAC पर भारतीय सेना ने अपनी तैयारी बढ़ा दी है। हालात बिगड़ने के संकेत इस बात से मिल रहे हैं कि तमाम बातचीत के बाद भी चीन की सेना पैंगोंग में फिंगर-4 से पीछे हटने से इनकार कर दिया है। जिसके चलते पूर्वी लद्दाख में तोपों की तैनाती बढ़ा दी गई है।

china-india

इस बीच भारतीय सेना के उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी दिल्ली पहुंच गए हैं। वहीं LAC पर तनाव के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कल से लद्दाख के दौरे पर होंगे।

India-China LAC

LAC पर तनाव लंबा चलेगा

LAC पर चीन की सेना पैंगोंग में पीछे हटने को तैयार नहीं है। फिंगर-4 से हटने को चीन की सेना तैयार नहीं है। चुशूल में दोनों देशों के बीच चौथी कोर कमांडर स्तर की बातचीत हुई थी। यह बातचीत 14 घंटे से ज्यादा चली थी। गलवान, हॉटस्प्रिंग्स और गोगरा से सैनिकों के हटने पर सहमति बनी थी। भारत की मांग है कि चीन के सैनिक इलाके से पूरी तरह से हटें।

India-China LAC

भारतीय सेना अलर्ट

वहीं भारतीय सेना भी पूरी तरह से तैयार है। चीन की हरकतों को ध्यान में रखते हुए भारत ने पूर्वी लद्दाख में 60 हजार सैनिकों की तैनाती कर दी है।भारत ने भीष्म टैंक, अपाचे युद्धक हेलीकॉप्टर, सुखोई फाइटर जेट, शिनूक और ‘रुद्र’ युद्धक हेलीकॉप्टर की तैनाती कर दी है। इसके अलावा पूर्वी लद्दाख में भारत ने तोपों की तैनाती बढ़ा दी है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement