दिल्ली चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद AAP की जीत को लेकर सामने आया ये बड़ा ‘सच’

हार साफ देखने के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ”जनता ने अपना जनादेश दे दिया। जनादेश कांग्रेस के विरुद्ध भी दिया है। हम कांग्रेस और डीपीसीसी की तरफ से इस जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करते हैं।”

Written by: February 11, 2020 2:55 pm

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजों में साफ हो गया है कि केजरीवाल को फिर से सत्ता की कुर्सी मिलनी तय है। एक बार फिर से दिल्ली की जनता ने आम आदमी पार्टी की सरकार पर भरोसा जताया है। लेकिन इसके बीच कांग्रेस की तरफ से एक ऐसा बयान दिया गया है कि जो आप की जीत में सहायक दिखती है।

Delhi CM Arvind Kejriwal

दरअसल सामने आ रहे रुझानों को लेकर कांग्रेस की तरफ से कहा गया है कि, अगर कांग्रेस मजबूत स्थिति में होती तो भाजपा को अभी के मुकाबले और ज्यादा सीटें हासिल होतीं। बता दें कि कांग्रेस के वोट शेयर में जबरदस्त गिरावट देखने को मिल रहा है, जहां पार्टी को 2015 चुनाव के मुकाबले कम वोट हासिल हुआ है। पार्टी के सूत्र ने दावा किया कि अगर कांग्रेस मजबूत स्थिति में होती तो भाजपा को अभी के मुकाबले और ज्यादा सीटें हासिल होतीं।

कांग्रेस मजबूत होती तो बीजेपी की होती जीत

फिलहाल इतना तय है कि यदि दिल्ली में कांग्रेस मजबूत होती तो वह सीधे तौर पर बीजेपी की जीत का माध्यम बनती। इसका ही नतीजा रहा कि कांग्रेस ने चुनाव प्रचारों में पूरे मन से भाग नहीं लिया। इसको लेकर कांग्रेस के नेता भी अब मान रहे हैं कि यदि कांग्रेस मजबूती से लड़ती तो आम आदमी पार्टी के ही वोट कटते। इसे देखते हुए यदि भारतीय जनता पार्टी आप को बड़ा नुकसान पहुंचाने में असफल रही है, तो इसका हद दर्जे का श्रेय कांग्रेस को जाता है। जिसका सीधा फायदा आप को अपनी सीटें बचाए रखने के रूप में मिला है।

Delhi Election BJP Congress AAP

कांग्रेस नेता परवेज अहमद ने कहा ये ‘सच’

वहीं पार्टी के एक नेता ने कहा, “कांग्रेस ने हथियार डाल दिए और अगर हमने चुनाव के दौरान आप के साथ गुप्त गठबंधन किया होता तो पार्टी की स्थिति दिल्ली में मजबूत होती।” ओखला से कांग्रेस नेता परवेज अहमद ने कहा, “कांग्रेस अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में अच्छा करने की उम्मीद कर रही थी, लेकिन मुस्लिमों ने भाजपा के जीत के डर से आप को वोट किया।”

Randeep-Surjewala

हार साफ देखने के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ”जनता ने अपना जनादेश दे दिया। जनादेश कांग्रेस के विरुद्ध भी दिया है। हम कांग्रेस और डीपीसीसी की तरफ से इस जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करते हैं।” उन्होंने कहा, ”हम निराश नहीं हैं। कांग्रेस को जमीनी स्तर पर और नए सिरे से मजबूत करने का संकल्प दृढ़ हुआ है। कांग्रेस के कार्यकर्ता और साथी का हम धन्यवाद करते हैं। हम नवनिर्माण का संकल्प लेते हैं।”