कानपुर शूटआउट : यूपी पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, गैंगस्टर विकास दुबे के दो और साथी ढेर

बता दें कि इससे पहले पुलिस ने बुधवार को मुख्य आरोपी विकास दुबे के दाहिना हाथ माने जाने वाले अमर दुबे को हमीरपुर में मुठभेड़ में को मार गिराया था।  

Written by: July 9, 2020 8:53 am

नई दिल्ली। कानपुर एनकाउंटर केस में यूपी पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने कानपुर के बिकरु कांड मामले के मुख्य आरोपी विकास दुबे के बेहद करीबी प्रभात मिश्रा और रणबीर शुक्ला को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया है। बता दें कि इससे पहले पुलिस ने बुधवार को विकास दुबे के दाहिना हाथ माने जाने वाले अमर दुबे को हमीरपुर में मुठभेड़ में को मार गिराया था।

UP Police

प्रभात मिश्रा को पुलिस ने फरीदाबाद के होटल से गिरफ्तार किया था। बताया जा रहा है कि प्रभात पुलिस की कस्टडी से भाग रहा था। इसके बाद एनकाउंटर में प्रभात को मार गिराया गया। वहीं विकास दुबे का एक दूसरा साथी रणवीर उर्फ बऊआ भी इटावा में हुई मुठभेड़ में मारा गया है। पुलिस ने इटावा के बकेवर थाना क्षेत्र में उसका एनकाउंटर किया। बऊआ दुबे अपने तीन अन्य साथियों के साथ एक एक स्विफ्ट डिजायर कार को लूटकर भागने के प्रयास में था।

इसी दौरान कचौरा रोड पर पुलिस ने उन्हें रोका तो उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी गोली चलाई जिसमें बऊआ दुबे मारा गया। हालांकि उसके तीन साथी भागने में कामयाब रहे। बता दें कि रणवीर के ऊपर 50000 का इनाम भी घोषित था।

Vikas Dubey

गौरतलब है कि मोस्‍टवांटेंड गैंगस्‍टर विकास दुबे बुधवार को फरीदाबाद में विकास दुबे के होने का दावा किया गया था। एक सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा था कि वह ऑटो में सवार होकर जा रहा है। विकास दुबे के नोएडा में फिल्म सिटी में सरेंडर करने को लेकर दिनभर सूचना चलती रही। इन सूचना को लेकर फिल्म सिटी के चप्पे-चप्पे पर सुबह से लेकर देर रात तक भारी पुलिस बल तैनात रहा।