मध्यप्रदेश को ‘मदिरा प्रदेश’ बना रहे हैं कमलनाथ, शिवराज का गंभीर आरोप

मध्यप्रदेश में इन दिनों शराब के ठेकों को लेकर बवाल मचा हुआ है। कमलनाथ सरकार की राज्य में शराब की उपदुकान खोलने की इजाज़त की कार्यवाही पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

Written by: January 10, 2020 1:48 pm

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में इन दिनों शराब के ठेकों को लेकर बवाल मचा हुआ है। कमलनाथ सरकार की राज्य में शराब की उपदुकान खोलने की इजाज़त की कार्यवाही पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सीएम कमलनाथ का यह फैसला प्रदेश को मदिरा प्रदेश बना देगा।

KamalNath Shivraj SINGH

दरअसल मध्यप्रदेश सरकार मानती है कि ग्रामीण क्षेत्रों में जहां शराब दुकान संचालित करने का ठेका दिया जाता है, उससे इतर शराब की बिक्री होती है।

इसे संस्थागत रूप देने के लिए समूह में शराब दुकानों का संचालन करने वालों से एक निश्चित फीस लेकर पांच किलोमीटर के दायरे में उपदुकान खोलने की अनुमति दी जा सकती है।

इसी बात पर भड़के हुए शिवराज सिंह ने कहा कि इस फैसले से प्रदेश में शराब की दुकान दुगनी तिगुनी हो जाएगी। यह प्रदेश को शराब के नशे में डुबाने वाला फैसला है। शिवराज ने कहा कि एक तरफ माफिया अभियान चला रहे है दूसरी तरफ राज्य को शराब माफिया के हवाले कर दिया गया ह। शिवराज सिंह चौहान में कमलनाथ सरकार को चेतावनी भी दी।

Shivraj Singh Chouhan

उन्होंने कहा, “मैं सीएम कमल नाथ को आज पत्र लिखूंगा। मुझे प्रदेश के भविष्य की चिंता है। माताओं बहनों की चिंता है। मैं सरकार से मांग कर रहा हूँ कि फैसला वापस लें अन्यथा हम जनता के साथ आंदोलन करेंगे।