Connect with us

देश

त्रिपुरा में हुई कांग्रेस की ‘दुर्गति’ पर लोगों ने सोशल मीडिया पर बनाए मजेदार मीम्स, पूछा- हाउ इज दॉ जोश?

आप समझ रहे हैं हम किसकी बात कर रहे हैं। हम कांग्रेस की बात कर रहे हैं। वही कांग्रेस जिसका कभी पूरे देश में डंका बजता था, लेकिन आज यह कुछ राज्यों तक सिमट कर रह गई है। अभी त्रिपुरा में हुए नगर निकाय चुनाव को ही देख लीजिए। आपको शायद यकीन ना हो, लेकिन वहां पार्टी अपना खाता भी नहीं खोल पाई है। पार्टी के नेताओं को पूरा विश्वास था कि राहुल, सोनिया और प्रियंका की तिकड़ी कुछ कमाल दिखा पाने में सफल रहेगी।

Published

on

tripura MCD election

नई दिल्ली। यकीन नहीं होता…मन नहीं मान रहा है…विश्वास नहीं होता है…यह तो वही पार्टी है ना जिसका कल तक पूरे देश में डंका बजता था। यह तो वही पार्टी है ना जिसकी एंट्री मात्र से ही तमाम छोटे बड़े दल भूमिगत हो जाते थे। यह तो वही पार्टी है ना जिसने देश की सत्ता पर सात दशकों तक अपना सियासी रसूख बरकरार रखा था, तो फिर आज इसे ऐसा क्या हो गया कि देश किसी राज्य में चुनाव होते हैं, तो ये चुनाव जीतना तो दूर, बल्कि खाता भी नहीं खोल पाती है। अगर किसी राज्य में चुनाव हो जाए तो इसके नेता कैसे प्रदेश की जनता को रिझाना है, उसके बारे में नहीं, बल्कि ये सोचने में मसरूफ हो जाते हैं कि करारी शिकस्त झेलने के बाद अपना मुंह कैसे छुपाना है। देश के इतिहासकार पार्टी की हुई इस दुर्गति को हमेशा स्मरण रखेंगे।

आप समझ रहे हैं हम किसकी बात कर रहे हैं। हम कांग्रेस की बात कर रहे हैं। वही कांग्रेस जिसका कभी पूरे देश में डंका बजता था, लेकिन आज यह कुछ राज्यों तक सिमट कर रह गई है। अभी त्रिपुरा में हुए नगर निकाय चुनाव को ही देख लीजिए। आपको शायद यकीन ना हो, लेकिन वहां पार्टी अपना खाता भी नहीं खोल पाई है। पार्टी के नेताओं को पूरा विश्वास था कि राहुल, सोनिया और प्रियंका की तिकड़ी कुछ कमाल दिखा पाने में सफल रहेगी, लेकिन अफसोस ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। इसके विपरीत पार्टी के नेता अपनी निराशावादी नतीजों को जानकर अवसादग्रस्त हो गए हैं। वे अब अन्य  राज्यों में होने जा रहे चुनाव को लेकर भी संशकित हो गए हैं। वहीं, बात अगर बीजेपी समेत अन्य दलों की करें, तो उनकी स्थिति कांग्रेस की तुलना में बेहतर है।bjp

बात अगर बीजेपी की करें, तो पार्टी 329 सीटों पर जीत दर्ज करने में कामयाब रही है। वहीं बंगाल को छोड़कर अन्य राज्यों में अपना सियासी किला स्थापित करने की जुगत में जुटी टीएमसी को महज एक सीट से संतुष्टि करनी पड़ी है। जिसे लेकर अब दोनों ही दलों का सोशल मीडिया पर जमकर मखोल उड़ाया जा रहा है। खासकर कांग्रेस की जैसी दुर्गति त्रिपुरा नगर निकाय चुनाव में हुई है, उसे लेकर राहुल गांधी से लेकर सोनिया गांधी जैसे नेताओं को लोग अपने निशाने पर लेकर उनके नाम मीम्स बना रहे हैं। आइए, हम आपको कुछ ऐसे ही मीम्स दिखाते हैं।

 

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement