Ayodhya: अयोध्या को विश्व स्तरीय धार्मिक पर्यटन केंद्र बनाने की तैयारी शुरू, रामनगरी को सजाने का काम इस संस्थान के हाथ

Ayodhya: भगवान राम की नगरी अयोध्या (Ayodhya) को दुनिया में बेहतरीन बनाने के उद्देश्य से कई काम किए जा रहे हैं। इसके साथ ही इस बात पर भी ध्यान दिया जा रहा है कि साफ-सफाई के मामले हो या सुविधा के मानक अयोध्या को सर्वोत्तम बनाने की कवायद शुरू हो गई है। योगी सरकार (Yogi Adityanath) की तरफ से इसके लिए IIM इंदौर का चयन किया गया है।

Avatar Written by: January 8, 2021 5:53 pm
Ayodhya Dipotsav Light

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट से अयोध्या में राम लला विराजमान के पक्ष में फैसला आने के बाद से यहां मंदिर निर्माण कार्य में तेजी आ गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राम मंदिर के लिए भूमिपूजन करने के बाद इसके काम में ज्यादा तेजी देखी जा रही है। राम मंदिर निर्माण कार्य के साथ ही योगी सरकार के प्रयासों से अयोध्या को विश्व स्तरीय धार्मिक पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने की तैयारी ने भी जोर पकड़ ली है।

Ayodhya Ram Lala

ऐसे में अब भगवान राम की नगरी अयोध्या को दुनिया में बेहतरीन बनाने के उद्देश्य से कई काम किए जा रहे हैं। इसके साथ ही इस बात पर भी ध्यान दिया जा रहा है कि साफ-सफाई के मामले हो या सुविधा के मानक अयोध्या को सर्वोत्तम बनाने की कवायद शुरू हो गई है। योगी सरकार की तरफ से इसके लिए IIM इंदौर का चयन किया गया है। मतलब अब अयोध्या को सजाने संवारने का काम इंडियन इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट (आईआईएम) इंदौर के विशेषज्ञों के द्वारा किया जाएगा। अयोध्या नगर निगम के कर्मचारियों और अधिकारियों को आईआईएम-इंदौर की तरफ से प्रशिक्षण दिया जाएगा। अयोध्या नगर निगम और आईआईएम प्रबंधन के बीच इसको लेकर करार हो गया है।

बता दें कि स्वच्छता की रैंकिंग में इंदौर पहले नंबर पर बना हुआ है। यहां भी IIM इंदौर का मॉडल काम करता है। ऐसे में योगी सरकार की तरफ से अयोध्या को संजाने संवारने की कार्य योजना तैयार करने का जिम्मा इस संस्थान को सौंपा गया है। इसी के संरक्षण में अयोध्या में कैपेसिटी बिल्डिंग और ट्रेनिंग का काम होगा। इसके तहत सड़कों का चौड़ीकरण तक किया जाएगा। अगर IIM इंदौर की योजना के मुताबिक ही सब कुछ हुआ तो अयोध्या की गिनती देश और दुनिया के बेहतरीन शहरों में होगी। करार की मानें तो आईआईएम-इंदौर के विशेषज्ञ अयोध्या की स्वच्छता, सजावट, पर्यटन सुविधाओं और शहर के विकास का खाका भी खीचेंगे।

ram mandir FI

वहीं इस पूरे मामले पर जानकारी देते हुए अयोध्या के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने बताया कि, इंदौर मॉडल के तौर पर अयोध्या को भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधा वाले पर्यटन केंद्र बनाया जाना है। इसके लिए अयोध्या नगर निगम और आईआईएम इंदौर के बीच एक समझौता (एमओयू) हुआ है। इसके तहत तीन साल के लिए आईआईएम इंदौर अयोध्या नगर निगम के साथ मिलकर काम करेगा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost