महाराष्ट्र : वाधवा परिवार को महाबलेश्वर जाने की इजाजत देने वाले गृह विभाग के विशेष सचिव छुट्टी पर भेजे गए

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने ट्विटर पर लिखा- “माननीय मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी के साथ चर्चा के बाद श्री अमिताभ गुप्ता, प्रधान सचिव (विशेष) को जांच होने तक तत्काल प्रभाव से अनिवार्य अवकाश पर भेज दिया गया है। जिससे उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू की जा सके।”

Written by: April 10, 2020 3:29 pm

नई दिल्ली। कोरोना से मचे कोहराम के बीच महाराष्ट्र में DHFL मामले से जुड़े कपिल वाधवान का परिवार महाबलेश्वर गया तो ठाकरे सरकार पर सवाल उठने लगे। जिसके बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गृह विभाग के विशेष सचिव और एडिशनल डीजीपी अमिताभ गुप्ता को तत्काल प्रभाव से अनिवार्य अवकाश पर भेज दिया है।

CM Uddhav thackrey

इस बात की जानकारी देते हुए महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने ट्विटर पर लिखा- “माननीय मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी के साथ चर्चा के बाद श्री अमिताभ गुप्ता, प्रधान सचिव (विशेष) को जांच होने तक तत्काल प्रभाव से अनिवार्य अवकाश पर भेज दिया गया है। जिससे उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू की जा सके।”

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में सामने आ रहे हैं, ऐसे में वाधवा परिवार का महाबलेश्वर जाना सुरक्षा में खामियों की गवाही दे रहा था। इसको लेकर महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने कपिल और धीरज वाधवान समेत 22 लोगों को महाबलेश्वर पहुंचने पर सवाल उठाए हैं।

Uddhav thackrey Devendra

देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट किया, ‘महाराष्ट्र में शक्तिशाली और अमीर लोगों के लिए कोई लॉकडाउन नहीं है? पुलिस की आधिकारिक इजाजत से कोई महाबलेश्वर में छुट्टियां बिता सकता है। यह मुमकिन नहीं है कि एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी इस तरह की घोर गलती को अपने दम पर अंजाम दे।’

Wadhvan

फडणवीस ने एक और ट्वीट में फडणवीस ने पूछा, ‘यह किसके आदेश या आशीर्वाद से हुआ था? सीएम और गृह मंत्री को स्पष्टीकरण देना चाहिए।’ इसके अलावा बीजेपी नेता किरीट सौमेया ने भी इस मामले को लेकर महाराष्ट्र सरकार को घेरा। किरीट सौमेया नेता का आरोप है कि लॉकडाउन के बीच वाधवान परिवार मुंबई से महाबलेश्वर कैसे पहुंच गया, क्या सरकार येस बैंक के आरोपियों को VVIP ट्रीटमेंट दे रही थी। उन्होंने इस मामले में महाराष्ट्र के राज्यपाल को हस्तक्षेप करने की अपील की है।