Hathras पहुंचे यूपी के डीजीपी और अपर मुख्य सचिव, पीड़ित परिवार से की मुलाकात, दिया मदद का भरोसा

Hathras : यूपी(UP) के दो शीर्षस्थ अधिकारियों ने हाथरस(Hathras) में अधिकारियों से पूरी घटना की जानकारी ली है और सुरक्षा इंतजामों के साथ ही परिवार को मदद पहुंचने संबंधी कामों का जायजा लिया।

Avatar Written by: October 3, 2020 4:25 pm

लखनऊ। हाथरस मामले को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधने वाले विपक्ष को बैकफुट पर लाने के लिए योगी सरकार ने सख्ती के साथ कार्रवाई शुरू कर दी है। जहां विपक्षी दल सीएम योगी से इस्तीफे की मांग कर रहे हैं तो वहीं सीएम योगी विपक्ष की आलोचना की चिता छोड़ लगतार कड़े कदम उठाते जा रहे हैं। हाथरस के पुलिस अधीक्षक, एक डीएसपी और संबंधित थाना प्रभारी को सस्पेंड और आरोपियों और पीड़ित पक्ष का पॉलीग्राफ और नारको टेस्ट कराने का आदेश देने के बाद अब योगी सरकार ने यूपी के डीजीपी और अपर मुख्य सचिव को हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने के लिए भेजा। बता दें कि शनिवार को यूपी पुलिस के डीजीपी एच सी अवस्थी हाथरस पहुंचे। उनके साथ ही यूपी सरकार के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी भी मौजूद रहे। योगी सरकार के इन दो बड़े अधिकारियों ने पीड़ित परिवार से मिलकर उन्हें हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया। इन मुलाकात में दोनों ने पीड़ित परिवार की बातें सुनी।

UP CMO Hathras

बता दें कि यूपी के दो शीर्षस्थ अधिकारियों ने हाथरस में अधिकारियों से पूरी घटना की जानकारी ली है और सुरक्षा इंतजामों के साथ ही परिवार को मदद पहुंचने संबंधी कामों का जायजा लिया। इसके बाद दोनों अधिकारियों ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की।

योगी सरकार की कार्रवाई

मामले की गंभीरता को समझते हुए CM योगी ने हाथरस के पुलिस अधीक्षक, एक डीएसपी और संबंधित थाना प्रभारी को भी सस्पेंड कर दिया है। इसके अलावा राज्य सरकार ने कड़ी कार्रवाई करते हुए आरोपियों और पीड़ित पक्ष का पॉलीग्राफ और नारको टेस्ट कराने का आदेश दिया है। राज्य सरकार ने यह फैसला इस मामले की जांच कर रही SIT की पहली रिपोर्ट मिलने के बाद किया है। इसके अलावा योगी सरकार ने आला अधिकारियों पर बड़ा एक्शन लेते हुए हाथरस के पुलिस अधीक्षक, एक डीएसपी और संबंधित थाना प्रभारी को भी सस्पेंड कर दिया है।

UP Police Hathras Last Rites

क्या है पूरा मामला

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) में 14 सितंबर ऐसी हैवानियत सामने आई जिसने पूरे देश को हिला कर रख दिया। बताया जा रहा है कि 19 साल की लड़की के साथ पहले आरोपियों ने गैंगरेप (Gangrape) किया और उसके बाद उसकी जीभ काट दी ताकि वह किसी के सामने कुछ न बोल सके। इतना ही नहीं दरिदों ने उसके साथ मारपीट कर रीढ़ की हड्डी भी तोड़ दी। बाद में लड़की को अस्पताल में भर्ती तो कराया गया था। लेकिन 15 दिन के बाद पीड़िता ने 29 सितंबर को सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया।

Support Newsroompost
Support Newsroompost