Connect with us

देश

UP: यूपी में आवारा पशुओं के मालिकों को पुलिस की चेतावनी का VIDEO वायरल, सब इंस्पेक्टर ने गांव पहुंचकर कहा…

Viral Video: सब इंस्पेक्टर ये भी कहते सुनाई दे रहे हैं कि अगर किसी को शौच जाना हो, तो वो या तो अपने घर के शौचालय चला जाए या गांव में बनाए गए सार्वजनिक शौचालय का इस्तेमाल करे। वरना ऐसे लोगों के खिलाफ भी पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

Published

on

police

लखनऊ। अन्ना यानी आवारा जानवर इस बार यूपी चुनाव में बड़ा मुद्दा बने थे। यूपी में जगह-जगह खेतों और हाइवे पर आवारा गाय-भैंस के घूमने की वजह से लोग परेशान थे। इसे सपा समेत विपक्षी दलों ने जमकर मुद्दा बनाया था। इस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने एक जनसभा में एलान किया था कि सरकार बनने के बाद 10 दिन में आवारा पशुओं की इस समस्या को खत्म किया जाएगा। अब एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में यूपी पुलिस के एक सब इंस्पेक्टर ढोल लेकर मुनादी करने वाले के साथ नजर आ रहे हैं। सब इंस्पेक्टर गांव में खड़े होकर एलान कर रहे हैं कि अगर किसी के अन्ना जानवर खेतों में या बाहर घूमते नजर आए, तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सब इंस्पेक्टर ये भी कहते सुनाई दे रहे हैं कि अगर किसी को शौच जाना हो, तो वो या तो अपने घर के शौचालय चला जाए या गांव में बनाए गए सार्वजनिक शौचालय का इस्तेमाल करे। वरना ऐसे लोगों के खिलाफ भी पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

stray animals

ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है और आजमगढ़ जिले का बताया जा रहा है। newsroompost.com इस वीडियो के स्थान की पुष्टि नहीं करता, लेकिन ये वीडियो यूपी का ही है। बता दें कि आवारा पशुओं के लिए पिछली बार योगी सरकार ने आश्रय स्थल बनाए थे, लेकिन फिर भी तमाम गाय-भैंस खुले घूमते मिलते थे। कई जगह इन पशुओं की वजह से हाइवे पर एक्सीडेंट की खबरें भी आई थीं।

बीते दिनों बीजेपी के सूत्रों ने बताया था कि सरकार और संगठन ने इस समस्या को खत्म करने के लिए छुट्टा जानवरों को ऊर्जा और प्राकृतिक खेती से जोड़ने की योजना तैयार की है। दोबारा सीएम पद की शपथ लेने से पहले योगी आदित्यनाथ ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि आने वाले वक्त में गोवंश संरक्षण के कार्यक्रम को तेज किया जाएगा। सरकार ने इससे पहले आवारा पशुओं के संरक्षण के लिए लागू तीन योजनाओं के जरिए करीब 9 लाख पशुओं का संरक्षण किया, लेकिन अब सरकार इससे निपटने के लिए लंबी तैयारी कर रही है। ताकि साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में आवारा पशुओं के मुद्दे को विपक्ष उठाकर बीजेपी को घेर न सके।

Advertisement
Advertisement
Advertisement