भारत-चीन सीमा विवाद पर अमेरिका की टिप्पणी से भड़का ड्रैगन, कहा कुछ ऐसा

भारत-चीन सीमा पर इन दिनों मची हलचल के बीच अमेरिका द्वारा भारत का साथ दिए जाने पर चीन बुरी तरह भड़क गया है। चीन ने गुरुवार को कहा कि बॉर्डर मुद्दे पर अमेरिका की एक वरिष्ठ राजनयिक की टिप्पणियां ‘निरर्थक’ हैं और दोनों देशों के बीच राजनयिक माध्यम से चर्चा जारी है तथा वाशिंगटन का इससे कोई लेना-देना नहीं है।

Avatar Written by: May 22, 2020 3:42 pm

बीजिंग। भारत-चीन सीमा पर इन दिनों मची हलचल के बीच अमेरिका द्वारा भारत का साथ दिए जाने पर चीन बुरी तरह भड़क गया है। चीन ने गुरुवार को कहा कि बॉर्डर मुद्दे पर अमेरिका की एक वरिष्ठ राजनयिक की टिप्पणियां ‘निरर्थक’ हैं और दोनों देशों के बीच राजनयिक माध्यम से चर्चा जारी है तथा वाशिंगटन का इससे कोई लेना-देना नहीं है।

 

दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों की वरिष्ठ अमेरिकी राजनयिक एलिस जी वेल्स ने बुधवार को कहा था कि चीन यथास्थिति को बदलने की कोशिश के तहत भारत से लगती सीमा पर लगातार आक्रामक रुख अपना रहा है।

china flag

आपको बता दें कि भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव के संबंध में एक सवाल के जवाब में वेल्स ने आरोप लगाया था कि चीन यथास्थिति को बदलने की कोशिश के तहत लगतार ‘भड़काऊ और परेशान करने वाला रुख’ अख्तियार किए हुए है। दक्षिण एवं मध्य एशिया ​मामलों की निवर्तमान प्रधान उपसहायक विदेश मंत्री वेल्स ने बुधवार को एक कार्यक्रम में थिंक टैंक अटलांटिक काउंसिल से कहा था कि चीन का तरीका हमेशा आक्रामकता का रहा है, वह यथास्थिति को बदलने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। उसे रोके जाने की आवश्यकता है।

वहीं इस मुद्दे पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजान ने कहा कि चीन-भारत सीमा मुद्दे पर चीन की स्थिति स्थिर और स्पष्ट रही है। वेल्स की टिप्पणियों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अमेरिकी ‘राजनयिक की टिप्पणियां केवल निरर्थक हैं।’ झाओ ने कहा कि चीन के सीमा प्रहरी दृढ़ता से चीन की सीमा की संप्रभुता और सुरक्षा की रखवाली करते हैं तथा भारत की ओर से होने वाली अतिक्रमण की गतिविधियों से मजबूती से निपटते हैं।