India-China dispute: भारत-चीन सीमा विवाद के बीच अखबार ने किया दावा, फैक्ट चेक में बात निकली झूठी

India-China dispute: भारत (India) और चीन (China) के बीच चल रहे सीमा विवाद के बीच सोशल मीडिया (Social Media) पर फर्जी खबरों की बाढ़ सी आ गई है। ये फर्जी खबरें खूब वायरल भी होती रहती हैं। ऐसे ही एक अखबार की खबर को फैक्ट चेक के जरिए फर्जी करार दिया गया है।

Avatar Written by: October 30, 2020 3:24 pm
India China army

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद के बीच सोशल मीडिया पर फर्जी खबरों की बाढ़ सी आ गई है। ये फर्जी खबरें खूब वायरल भी होती रहती हैं। ऐसे ही एक अखबार की खबर को फैक्ट चेक के जरिए फर्जी करार दिया गया है। इस पूरे मामले में भारतीय सेना की तरफ से अखबार के दावे को फर्जी करार दिया गया है। सरकारी वेबसाइट प्रेस इंफोर्मेशन ब्यूरो ने अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट द हिंदू के आर्टिकल के दावे को फर्जी करार दिया है।

द हिंदू ने ये दावा चीनी सैनिकों द्वारा भारत में घुसपैठ को लेकर किया है। सेना ने मीडिया में आई उस रिपोर्ट का खंडन किया है जिसमें कहा गया है कि चीन की सेना ने पूर्वी लद्दाख में पेगोंग झील के उत्तर में फिंगर दो और तीन क्षेत्र में फिर से भारतीय सीमा का अतिक्रमण किया है। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि मीडिया में इस बारे में आई रिपोर्ट गलत है।


29 अक्टूबर को प्रकाशित द हिंदू के आर्टिकल में दावा किया गया है कि चीनी सैनिकों ने भारतीय सीमा में पेंगोंग झील के इलाके में घुसपैठ कर ली है। उल्लेखनीय है कि मीडिया में आई एक रिपोर्ट में भारतीय जनता पार्टी के लद्दाख से पूर्व सांसद थुप्सान छेवांग के हवाले से कहा गया है कि चीन की सेना ने पूर्वी लद्दाख में पेगोंग झील के उत्तर में फिंगर दो और तीन क्षेत्र में और आगे बढते हुए भारतीय सीमा का अतिक्रमण किया है और वहां कब्जा जमा लिया है। सेना ने इस रिपोर्ट को पूरी तरह से फर्जी करार दिया है और कहा है कि वह इसे खारिज करती है।

India china army

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर पिछले पांच महीनों से सैन्य गतिरोध बना हुआ है। इसके समाधान के लिए दोनों पक्षों के बीच राजनयिक और सैन्य तथा राजनीतिक स्तर पर निरंतर बातचीत चल रही है लेकिन दोनों पक्षों के अपने रूख पर कायम रहने से अभी तक इसका ठोस हल नहीं निकला है।