बाबरी विध्वंस मामला: आने वाले दिनों में लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी का बयान होगा दर्ज

अयोध्या बाबरी विध्वंस मामले में अब एक-एक कर आरोपियों के बयान वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दर्ज किए जा रहे हैं।

Avatar Written by: July 20, 2020 6:14 pm

नई दिल्ली। अयोध्या बाबरी विध्वंस मामले में अब एक-एक कर आरोपियों के बयान वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दर्ज किए जा रहे हैं। सीबीआई की विशेष अदालत ने बाबरी मस्जिद ढहाये जाने के मामले में पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी के सीआरपीसी की धारा-313 के तहत बयान दर्ज कराने की तारीख 24 जुलाई तय की है।

आडवाणी के बयान वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दर्ज होंगे। वहीं भाजपा के ही एक और सीनियर नेता मुरली मनोहर जोशी का बयान 23 जुलाई को दर्ज किया जाएगा। विशेष न्यायाधीश एस के यादव ने भाजपा नेता मुरली मनोहर जोशी के बयान दर्ज करने की तारीख 23 जुलाई तय की है। वहीं 22 जुलाई को इसी मामले में सतीश प्रधान का बयान दर्ज किया जाएगा।

lk-advani-murli-manohar-joshi

विशेष अदालत ने सोमवार को आरोपी सुधीर कक्कड़ का बयान दर्ज किया। वह व्यक्तिगत रूप से अदालत में पेश हुए। हालांकि उन्होंने पहले वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बयान दर्ज कराने की इच्छा जतायी थी।

Lal-krishna-Advani-and-Murli-Manohar-Joshi

वहीं कल यानि 21 जुलाई को सोनीपत जेल में बंद एक आरोपी की होगी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से गवाही। सोनीपत जेल में बंद रामचंद्र खत्री की भी कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से गवाही दर्ज करने की तारीख तय हुई है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost