चुनाव आयोग ने दिया ‘पाकिस्तान’ वाला ट्वीट हटाने का निर्देश, कपिल बोले- क्या सच बोलना गुनाह?

मॉडल टाउन से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर दिल्ली चुनाव को ‘भारत बनाम पाकिस्तान’ का मैच बताया था, जिसपर चुनाव आयोग ने सख्ती बरतते हुए ट्वीट हटाने के लिए कहा है।

Written by: January 24, 2020 2:56 pm

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में स्थानीय मुद्दों के साथ-साथ पाकिस्तान की भी एंट्री हो गई है। मॉडल टाउन से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर दिल्ली चुनाव को ‘भारत बनाम पाकिस्तान’ का मैच बताया था, जिसपर चुनाव आयोग ने सख्ती बरतते हुए ट्वीट हटाने के लिए कहा है, लेकिन भाजपा नेता कपिल मिश्रा का कहना है कि वह अपने बयान पर कायम हैं।ElectionCommission

इस सब के बीच निर्वाचन आयोग के निर्देश के बाद दिल्ली की CEO कार्यालय ने कपिल मिश्रा से विवादित ट्वीट हटाने को कहा है। जिसके बाद ट्वीट हटाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

इस मामले पर विवाद के बीच एक खबरिया चैनल से बातचीत करते हुए कपिल मिश्रा ने कहा है कि मुझे चुनाव आयोग का नोटिस प्राप्त हुआ है, मैं आज अपना जवाब दूंगा। मुझे नहीं लगता कि मैंने कुछ गलत कहा है, इस देश में सच बोलना गुनाह नहीं है। मैंने सच ही बोला है, मैं अपने बयान पर कायम हूं।Kapil Mishra Kejriwal

भाजपा नेता ने कहा कि शाहीन बाग की सड़कों पर अतिक्रमण किया गया है, लोग स्कूल-ऑफिस-अस्पताल नहीं जा पा रहे हैं। कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया कि वहां पर उकसाने वाले नारे लगाए जा रहे हैं। जिस तरह मनीष सिसोदिया ने कहा है कि वो शाहीन बाग वालों के साथ हैं, उससे साबित होता है कि ये राजनीतिक मूवमेंट है।

चुनाव आयोग ने Twitter से कहा- कपिल मिश्रा का ट्वीट डिलीट कीजिए

दिल्ली विधानसभा चुनाव में विवादित ट्वीट करने वाले बीजेपी कैंडिडेट कपिल मिश्रा के भारत-पाकिस्तान मैच वाले ट्वीट अब डिलीट कर दिए जाएंगे। चुनाव आयोग ने ट्विटर से कपिल मिश्रा के ‘हिन्दुस्तान-पाकिस्तान मैच’ वाले ट्वीट को डिलीट करने को कहा है।

एक अन्य ट्वीट में कपिल ने कहा था, ‘पाकिस्तान की एंट्री शाहीन बाग में हो चुकी हैं और दिल्ली में छोटे छोटे पाकिस्तान बनाये जा रहे हैं। शाहीन बाग, चांद बाग, इंद्रलोक में देश का कानून नहीं माना जा रहा है और पाकिस्तानी दंगाइयों का दिल्ली की सड़कों पर कब्जा है।’

भारत-पाक के बयान पर कपिल मिश्रा को चुनाव आयोग ने भेजा नोटिस

भारतीय जनता पार्टी के नेता कपिल मिश्रा के ट्वीट पर विवाद थमता नहीं दिख रहा है। राजनीतिक पार्टियों द्वारा निंदा के बाद अब चुनाव आयोग ने भी एक्शन लिया है। बता दें, कपिल मिश्रा को शुक्रवार को चुनाव आयोग की तरफ से नोटिस भेजा गया। कपिल मिश्रा ने गुरुवार को ट्वीट किया था कि 8 फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला होगा।

KAPIL MISHRA

जिसके बाद इस पर विवाद हो गया था। अरविंद केजरीवाल सरकार में मंत्री रह चुके कपिल मिश्रा इसबार दिल्ली के मॉडल टाउन से बीजेपी के उम्मीदवार हैं। केजरीवाल और सत्येंद्र जैन से अनबन के बाद उन्होंने आप पार्टी छोड़ दी थी। एक के बाद एक ट्वीट करते हुए कपिल मिश्रा ने लिखा था, ‘आठ फरवरी को दिल्ली में भारत बनाम पाकिस्तान होगा। 8 फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुकाबला होगा।’


कपिल के इस ट्वीट की कांग्रेस ने निंदा की थी। उन्होंने कहा था कि विपक्ष की तुलना पाकिस्तान से करना भारत की अस्मिता के खिलाफ है। पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, ‘हमारे शत्रुओं, एक पड़ोसी देश, जो हम पर आतंकवाद का आक्रमण करता है, उससे एक गणतांत्रिक-लोकतांत्रिक विपक्ष की बराबरी करना भारत की अस्मिता के विरुद्ध है।’ उन्होंने आगे कहा था, ‘हम इसकी भर्त्सना करते हैं। हां, आप लोकतांत्रिक तरीकों से जीतिए। आपका स्वागत है।’