Rajya Sabha: PM मोदी के बाद सदन में भावुक हुए गुलाम नबी आजाद, मुझे हिन्दुस्तानी मुसलमान होने पर गर्व है, पीएम की तारीफों के बांधे पुल

Rajya Sabha: अपने विदाई भाषण के दौरान गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) ने कहा कि मुझे गर्व महसूस होता है कि मैं हिंदुस्‍तानी मुसलमान हूं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी (Atal Bihari Bajpai) के कार्यकाल के दिनों में उन्‍हें हाउस में अटल जी के साथ काम करने में बड़ा सहयोग मिला। उनके साथ सदन में उत्‍साह बना रहता था। वहीं आजाद ने आगे कहा कि इंदिरा गांधी मुझे और फोतेदार को बताती रहती थीं कि अटल जी से संपर्क में रहा करो।

Avatar Written by: February 9, 2021 1:52 pm

नई दिल्ली। राज्यसभा से जम्मू-कश्मीर के सांसदों का कार्यकाल खत्म हो रहा है। इस मौके पर उनको विदाई संदेश देते हुए पीएम मोदी जम्मू-कश्मीर में हुए आतंकी हमले के वक्त गुजरात के लोगों की हत्या और गुलाम नबी आजाद के द्वारा उन्हें फोन कर रोने की बात को लेकर भावुक हो गए। पीएम मोदी गुलाम नबी आजाद की तरफ से 2007 में जब वह जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री थे उस समय वहां हुए आतंकी हमले में मारे गए गुजरात के लोगों का जिक्र कर रहे थे। इसके बाद गुलाम नबी आजाद ने भी सदन में बोलना शुरू किया और पूरे सदन का आभार जताया। उन्होंने इसके साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफों के पुल बांधते हुए कहा कि पीएम बनने के बाद कई बातों को लेकर सदन में नोंकझोंक हुई लेकिन नरेंद्र मोदी ने कभी इन बातों को पर्सनल नहीं लिया और हमेशा उन्होंने अपने पद की गरिमा का ख्याल रखते हुए उनकी बातों का जवाब दिया।

PM Modi and ghulam nabi azad

इसके बाद राज्यसभा में बोलते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि मुझे हिन्दुस्तानी मुसलमान होने पर गर्व है। पाकिस्तान के हालात के बारे में उन्होंने कहा कि मैं उन खुशकिस्मत लोगों में से हूं जो कभी पाकिस्तान नहीं गया। लेकिन वहां के हालातों को पढ़ने, सुनने और जानने के बाद मुझे लगता है कि दुनिया के किसी भी देश में रह रहे मुसलमानों से ज्यादा गर्व करने के लिए हिंदुस्तान का मुसलमान होना ही काफी है।

PM Narendra Modi And Gulam nabi

अपने विदाई भाषण के दौरान गुलाम नबी आजाद ने कहा कि मुझे गर्व महसूस होता है कि मैं हिंदुस्‍तानी मुसलमान हूं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के कार्यकाल के दिनों में उन्‍हें हाउस में अटल जी के साथ काम करने में बड़ा सहयोग मिला। उनके साथ सदन में उत्‍साह बना रहता था। वहीं आजाद ने आगे कहा कि इंदिरा गांधी मुझे और फोतेदार को बताती रहती थीं कि अटल जी से संपर्क में रहा करो।

2007 का वह वीडियो जब आतंकी हमले के बाद फूट-फूटकर रोने लगे थे गुलाम नबी आजाद, जिसका जिक्र कर वह और पीएम मोदी हो गए राज्यसभा में भावुक


गुलाम नबी आजाद ने कहा कि मुसलमानों के लिए जन्नत हिंदुस्तान ही है, आगे उन्होंने कहा कि विश्व में किसी मुलसमान को अगर गौरव होना चाहिए वह हिंदुस्तान के मुसलमान को गौरव होना चाहिए। गुलाम नबी आजाद ने इसी के साथ आगे कहा कि उन मुस्लिम बाहुल्य देशों में सब एक दूसरे से लड़ाई करते हैं वहां कोई हिंदू नहीं कोई क्रिश्चियन नहीं लेकिन फिर भी आपस में लड़ रहे हैं। लेकिन मैं बस यही खुदा से मांगता हूं कि हमारे मुसलमानों में वो बुराइयां कभी भी लाए।


इसके साथ ही आजाद ने भी उस वाकये का जिक्र किया जिसका जिक्र कर पीएम मोदी भावुक हो गए थे। वह भी उस वाकये का जिक्र करते हुए भावुक हो गए। आजाद ने कहा कि जिन्दगी में मैं सिर्फ 5 बार चिल्ला कर रोया। इंदिरा गांधी, संजय गांधी, राजीव गांधी की मौत के बाद चौथी बार मैं तब रोया जब सुनामी आई थी और पांचवी बार मैं तब रोया था जब मेरे सीएम बनने के बाद राज्य में आतंकी घटना हुई थी।

Support Newsroompost
Support Newsroompost