मध्यप्रदेशः विधायकों के इस्तीफे मंजूर होते ही खिलेगा कमल, भाजपा के हक़ में ‘ऐसे’ पलटा समीकरण

मध्यप्रदेश में भाजपा ने तुरुप का पत्ता चल दिया है। कांग्रेस की सरकार गिरना तय है। अब तक कुल 22 विधायकों के इस्तीफे हो चुके हैं।

Written by: March 11, 2020 12:39 pm

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में भाजपा ने तुरुप का पत्ता चल दिया है। कांग्रेस की सरकार गिरना तय है। अब तक कुल 22 विधायकों के इस्तीफे हो चुके हैं। इन 22 विधायकों का इस्तीफा मंजूर हुआ तो बहुमत का आंकड़ा 104 होगा। मध्यप्रदेश में भाजपा के पास 107 विधायक हैं।

kamalnath sindhiya cindia

मध्यप्रदेश विधानसभा में अब फ्लोर टेस्ट तय है। ये भी मुमकिन है कि बहुमत परीक्षण से पहले ही कमलनाथ इस्तीफा दे दें। बहरहाल समीकरण उनके पूरी तरह खिलाफ हैं।

Kamalnath and Rahul Gandhi

मध्यप्रदेश के 2 विधायकों के निधन के बाद सीटों की संख्या 228 रह गयी है। अब तक कांग्रेस के 22 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं।

kamalnath

अगर स्पीकर ने ये इस्तीफे मंजूर किए तो सदन में सीटें 22 और कम हो जाएंगी। इस तरह सदन में केवल 206 सीटें बचेंगी। इस स्थिति में बहुमत के लिए 104 की संख्या जरूरी होगी। सदन में भाजपा के पास 107 की संख्या है जो बहुमत से 3 ज्यादा है।

shivraj singh kamalnath

कांग्रेस और उसके सहयोगियों के पास 99 सदस्य हैं। इस स्थिति मध्यप्रदेश में कमल का खिलना तय है।