मुंबई पुलिस ने शरजील इमाम के समर्थन में नारे लगाने के खिलाफ दायर किया मुकदमा, जांच जारी

मुंबई पुलिस ने शरजील इमाम के समर्थन में नारे लगाने वाली एक महिला पर केस दर्ज किया है। इस महिला का नाम उर्वशी चूडावाला है।

Written by: February 3, 2020 9:51 pm

नई दिल्ली। मुंबई पुलिस ने शरजील इमाम के समर्थन में नारे लगाने वाली एक महिला पर केस दर्ज किया है। इस महिला का नाम उर्वशी चूडावाला है। इसके साथ ही 50 अन्य लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है।sharjeel imam

इसकी जानकारी महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने दी है। राजद्रोह के एक मामले में गिरफ्तार शरजील इमाम फिलहाल हवालात में बंद है। विवादित बयान को लेकर उसके खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज किया गया था।


महाराष्ट्र में फोन टैपिंग का मामला भी काफी तूल पकड़ रहा है। इस बारे में देशमुख ने कहा कि हमें शिकायत मिली है कि पिछली सरकार ने फोन टैपिंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल राजनीतिक फायदे के लिए किया। इस मामले की जांच के लिए सरकार ने एक कमेटी बनाई है। राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) की रैली के बारे में देशमुख ने कहा कि 9 फरवरी की रैली के लिए अभी तक आवेदन नहीं दिया गया है।

मुंबई के आजाद मैदान में लगे थे शरजील के समर्थन में नारे

मुंबई पुलिस एक ऐसे वीडियो की जांच कर रही है जिसमें कथित तौर पर शरजील इमाम के समर्थन में नारे लगाए गए। ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में कुछ लोग, “शरजील तेरे सपने को हम मंजिल तक पहुंचाएंगे” जैसे नारे लगा रहे हैं। मुंबई पुलिस इस वीडियो कंटेंट की जांच कर रही है। वीडियो आजाद मैदान मुंबई में हुए विरोध प्रदर्शन का बताया जा रहा है। Azad Maidan Mumbai
मुंबई के आजाद मैदान में शनिवार को CAA और NRC के खिलाफ रैली आयोजित की गई थी। इसे Queer Azadi March का नाम दिया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक इसी कार्यक्रम में ये नारेबाजी की गई।


हालांकि सूत्रों की मानें तो कार्यक्रम के एक आयोजक ने इस बात की पुष्टि की है कि ये वीडियो शनिवार के ही कार्यक्रम का है। उन्होंने कहा कि कुछ अज्ञात लोगों ने ऐसे नारे लगाए और आयोजक इसका समर्थन नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि आयोजकों ने ऐसे लोगों को नारेबाजी करने से रोका भी था।Azad Maidan Mumbai

इस कार्यक्रम की अनुमति देने से पहले मुंबई पुलिस ने आयोजकों से शपथपत्र पर हस्ताक्षर करवाए थे कि इस कार्यक्रम में और किसी मुद्दे पर नारेबाजी नहीं की जाएगी। ये वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने आयोजकों को पूछताछ के लिए बुलाया है। इस कार्यक्रम में LGBT कम्यूनिटी के लोग भी शामिल हुए थे। इस नारेबाजी को लेकर उन्होंने गुस्सा जाहिर किया। उन्होंने कहा कि ऐसी नारेबाजी की वजह से इस कार्यक्रम का असली मकसद खो गया।

भाजपा नेता किरिट सोमैया ने इस वीडियो को पोस्ट लिखा है कि उन्होंने इस वीडियो के खिलाफ मुंबई पुलिस को आवेदन दिया है। किरिट सोमैया ने आगे लिखा है कि मैंने मुम्बई पुलिस से अनुरोध किया कि वह जांच करे कि क्या आपत्तिजनक नारे आज़ाद मैदान मुंबई प्रदर्शन (शाहीन बाग का समर्थन करने के लिए) दिए गए थे “शेरगिल तेरे सपनेको हम मंज़िल तक पहंचाईंगे” !! ??