शाहीन बाग : प्रदर्शनकारियों से बोलीं साधना रामचंद्रन- ऐसी कोई समस्या नहीं है, जिसका समाधान न हो

प्रदर्शनकारियों से बातचीत करते हुए वार्ताकार साधना रामचंद्रन ने कहा कि आप ने हमे बुलाया था, इसलिए हम आए हैं। आप लोगों के जो मुद्दे हैं वो सुप्रीम कोर्ट पहुंचा चुका है। आपके सवाल सुप्रीम कोर्ट के सामने हैं। सुप्रीम कोर्ट में सीएए पर सुनवाई होनी है।

Written by: February 20, 2020 4:22 pm

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के खिलाफ 15 दिसंबर से शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन का हल निकालने के लिए सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित मध्यस्थता पैनल आज फिर से प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंचा। प्रदर्शनकारियों से बातचीत करते हुए वार्ताकार साधना रामचंद्रन ने कहा कि आप ने हमे बुलाया था, इसलिए हम आए हैं। आप लोगों के जो मुद्दे हैं वो सुप्रीम कोर्ट पहुंचा चुका है। आपके सवाल सुप्रीम कोर्ट के सामने हैं। सुप्रीम कोर्ट में सीएए पर सुनवाई होनी है। सुप्रीम कोर्ट मानता है कि आंदोलन आपका हक है। शाहीन बाग है और शाहीन बाग बरकरार रहेगा। हमें कोर्ट ने सड़क को लेकर बातचीत के लिए भेजा है।

Sanjay Hegde and Sadhana Ramachandran

साधना रामचंद्रन ने कहा कि ऐसी कोई समस्या नहीं है, जिसका समाधान नहीं हो सकता। हम हल निकालने की कोशिश करना चाहते हैं। हम चाहते हैं रास्ता भी खुले और आंदोलन भी चलता रहा। अगर बात नहीं बनी तो मामला फिर सुप्रीम कोर्ट जाएगा।

साधना रामचंद्रन ने कहा कि हम चाहते हैं कि आपका आंदोलन शाहीन बाग में ही बरकरार रहे। हम आपसे केवल बंद सड़क को खुलवाने पर बातचीत करना चाहते हैं। हम सबसे बात नहीं कर सकते। हम आपको तकलीफ में नहीं देख सकते।

Sanjay Hegde and Sadhana Ramachandran

इससे पहले भी सुप्रीम कोर्ट के मध्यस्थ बुधवार को पहली बार शाहीन बाग गए थे। इस दौरान उन्होंने प्रदर्शनकारियों से वार्ता करने की कोशिश की थी। लेकिन प्रदर्शनकारियों और मध्यस्थों के बीच हुई बातचीत को कोई भी नतीजा नहीं निकल सका।