पहले चीन से दुनियाभर में फैला कोरोनावायरस, अब कोविड वैक्सीन के ‘डेटा चोरी’ को लेकर हुई किरकिरी

चीन जो कि हमेशा से कई देशों की सुरक्षा में सेंध लगाने का काम करता आया है उसने एक बार फिर एक नापाक हरकत की है। चीनी सरकार के हैकर्स ने कोरोना वैक्सीन से जुड़ी खुफिया जानकारी चुराने की कोशिश की है।

Written by: August 1, 2020 8:36 pm

बीजिंग। कुछ मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कोरोनावायरस का वैक्सीन बनाने वाली अमेरिकी कंपनियों पर चीनी हैकर द्वारा हमला किया गया है। उन्होंने मूल्यवान डेटा की चोरी की कोशिश की। चीन जो कि हमेशा से कई देशों की सुरक्षा में सेंध लगाने का काम करता आया है उसने एक बार फिर एक नापाक हरकत की है। चीनी सरकार के हैकर्स ने कोरोना वैक्सीन से जुड़ी खुफिया जानकारी चुराने की कोशिश की है।

Corona Pic

एक अमेरिकी सुरक्षा अधिकारी के अनुसार हैकिंग के आधार पर चीनी सरकार से जुड़े हैकर्स ने अमेरिका बायोटेक कंपनी मॉडर्ना इंक (Moderna Inc.) को निशाना बनाया, जो अमेरिका की एक प्रमुख कोरोना वैक्सीन रिसर्च डेवलपर है। यह कंपनी फिलहाल कोरोना वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल कर रही है। अमेरिका इस वैक्सीन के तीसरे चरण में है।

Moderna America

इस पर चीनी प्रवक्ता वांग वनपिन ने कहा कि हाल ही में अमेरिकी सरकार के कुछ सूत्रों ने बात-बात पर चीन के साइबर अटैक करने और अमेरिका की वैक्सीन तकनीक और डेटा चोरी की निंदा की। लेकिन वे सदैव कोई सबूत देने में नाकामयाब रहते हैं। चीन ने बार-बार कहा है कि कोरोनावायरस के वैक्सीन के स्वतंत्र अनुसंधान और विकास क्षेत्र में चीन विश्व में अग्रणी स्थिति में है। चीन को अन्य देशों से संबंधित जानकारियां चुराने की कोई जरूरत नहीं है।

coronavirus

चीनी प्रवक्ता ने यह भी कहा है कि चीन ने अमेरिका के कुछ सरकारी विभागों और व्यक्तियों से लांछन न लगाने का आग्रह किया है। साथ ही, संबंधित मीडिया से अपील की कि बिना जाने और बिना सबूत के झूठी खबरों को न फैलाये।